कांवड़ियों को नया मार्ग उपलब्ध कराया, मिनी स्टेडियम बनवाया: जितेंद्र पाल सिंह
कांवड़ियों को नया मार्ग उपलब्ध कराया, मिनी स्टेडियम बनवाया: जितेंद्र पाल सिंह
देश

कांवड़ियों को नया मार्ग उपलब्ध कराया, मिनी स्टेडियम बनवाया: जितेंद्र पाल सिंह

news

मेरठ, 13 सितम्बर (हि.स.)। सिवालखास विधानसभा सीट से भाजपा विधायक जितेंद्र पाल सिंह सतवाई का कहना है कि योगी सरकार के कार्यकाल में उनके क्षेत्र में बहुत विकास कार्य हुए हैं। इन्हीं के दम पर 2022 के चुनावों में भाजपा को फिर से जीत हासिल होगी। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के साढ़े तीन साल का कार्यकाल पूरा होने पर हिन्दुस्थान समाचार ने विधायकों से 'साढ़े तीन सवाल' पूछने की मुहिम चलाई है। इसी मुहिम के अंतर्गत हिन्दुस्थान समाचार के मेरठ संवाददाता कुलदीप त्यागी ने मेरठ जनपद की सिवालखास सीट से भाजपा विधायक जितेंद्र पाल सिंह सतवाई से बातचीत की। सिवालखास क्षेत्र में कराए गए विकास कार्यों को गिनाते हुए विधायक जितेंद्र पाल सिंह सतवाई ने बताया कि बागपत-मेरठ नेशनल हाईवे, मेरठ-करनाल नेशनल हाईवे को छह लेन बनवाया। अपर गंगा पावर प्लांट का निर्माण करवाया। राइट सलावा रजवाहे को कांवड़ मार्ग के रूप में सिंचाई विभाग द्वारा कांवड़ियों के लिए पुरा महादेव मंदिर तक नया मार्ग उपलब्ध करवाया। बताया कि आठ करोड़ रुपए की लागत से पांचली में खिलाड़ियों के लिए मिनी स्टेडियम बनवाया। अपने क्षेत्र में पांच केवीए के सात बिजलीघर बनवाए। छह सरकारी नलकूप अपने क्षेत्र में बनवाए। भोला झाल को पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित करने की परियोजना पर सिंचाई विभाग से मिलकर कार्य करवाया जा रहा है। गन्ने का भुगतान करवाने में भूमिका निभाई। गेहूं खरीद की बाधाओं को दूर करवाया। डेढ़ साल बाद होने वाले विधानसभा चुनावों में मुद्दों के सवाल पर विधायक बोले कि प्रदेश में कानून व्यवस्था को बेहतर किया गया है। सामाजिक सुरक्षा, भ्रष्टाचार मुक्त शासन, सबका साथ, सबका विकास के मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाएंगे और भाजपा फिर से प्रदेश में सरकार बनाएगी। भाजपा सरकार और दूसरी पार्टियों की सरकारों के बीच अंतर पर जितेंद्र पाल सिंह सतवाई ने कहा कि भाजपा सरकार के दौरान कानून व्यवस्था सुधरी है। सामाजिक समरसता भाजपा सरकार के एजेंडे में है। उज्ज्वला योजना समेत सभी योजनाओं में बिना भेदभाव के लोगों को लाभ दिया गया। सौभाग्य योजना में सभी लोगों को लाभ मिला। जबकि पूर्ववर्ती सरकारों के दौरान ऐसा नहीं था। श्रीराम मंदिर निर्माण कार्य के सवाल पर विधायक बोले कि श्रीराम मंदिर निर्माण शुरू होने से 500 साल पुराना विवाद हल हुआ। श्रीराम मंदिर लोगों की आस्था का विषय था और लोगों की कामना पूर्ण हुई। श्रीराम भाजपा के जनमानस की आस्था में है। इससे 2022 के चुनाव प्रभावित होंगे और भाजपा फिर से प्रचंड बहुत से सरकार बनाएगी। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in