एम्स को अमेरिकन सोसायटी ऑफ हेमेटोलॉजी से ब्लड कैंसर पर अनुसंधान के लिए मिला अनुदान
एम्स को अमेरिकन सोसायटी ऑफ हेमेटोलॉजी से ब्लड कैंसर पर अनुसंधान के लिए मिला अनुदान
देश

एम्स को अमेरिकन सोसायटी ऑफ हेमेटोलॉजी से ब्लड कैंसर पर अनुसंधान के लिए मिला अनुदान

news

ऋषिकेश, 16 सितम्बर (हि.स.) । अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश को अमेरिकन सोसायटी ऑफ हेमेटोलॉजी से ब्लड कैंसर पर अनुसंधान के लिए अनुदान मिला है। यह अनुदान पाने वाला एम्स ऋषिकेश भारत का पहला चिकित्सा संस्थान है। एम्स निदेशक प्रो. रविकांत ने खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि इस अनुदान से रक्त कैंसर रिसर्च में नए विषयों पर अनुसंधान किया जाएगा। हमारा फोकस कीमो रिस्टेन्सेंस कोशिकाओं द्वारा प्राप्त अंतर आणविक परिवर्तन को समझने पर रहेगा। इस अनुसंधान में जिनोमिक्स, प्रोटियोमिक्स और क्रिस्पर जैसी तकनीक का प्रयोग किया जाएगा। यह अध्ययन कीमोथैरेपी प्रतिरोधी रोगियों के लिए कुछ नए चिकित्सीय पद्धतियों के आविष्कार में मदद करेगा। इस परियोजना का नेतृत्व मेडिकल ओंकोलॉजी ऐंड हेमेटोलॉजी विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. नीरज जैन करेंगे। वह डीबीटी रामलिंगस्वामी फैलोशिप प्राप्त हैं। डॉ. नीरज इससे पहले टेक्सास विश्वविद्यालय एमडी एंडरसन कैंसर सेंटर में रक्त कैंसर में अनुसंधान कर चुके हैं। इस परियोजना को ढाई वर्ष में पूर्ण किया जाएगा। इसके लिए एम्स को डेढ़ लाख डॉलर (1.10 करोड़ रुपये) की स्वीकृति प्रदान की गई है। हिन्दुस्थान समाचार/ विक्रम/मुकुंद-hindusthansamachar.in