एमएसपी व मंडियों का आंदोलन गैरवाजिब:मनोहर लाल
एमएसपी व मंडियों का आंदोलन गैरवाजिब:मनोहर लाल
देश

एमएसपी व मंडियों का आंदोलन गैरवाजिब:मनोहर लाल

news

विपक्ष के बहकावे में न आएं किसान राजस्थान का सस्ता बाजरा हरियाणा बेच रहे किसान पंजाब में बेचा जा रहा है हरियाणा का यूरिया चंडीगढ़, 22 नवंबर (हि.स.)। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने एमएसपी व मंडियों को लेकर चलाए रहे आंदोलन को गैरवाजिब करार देते हुए कहा है कि किसान विपक्ष के बहकावे में आना बंद करें। खरीफ सीजन के दौरान न तो मंडियां बंद हुई हैं और न ही एमएसपी। हरियाणा सरकार ने पांच फसलों को एमएसपी पर खरीदा है जबकि राजस्थान व पंजाब के किसान हरियाणा में आकर अपनी फसलें बेच रहे हैं। रविवार को हरियाणा वासियों को जारी संदेश में सीएम मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा के कुछ आढ़ती, व्यापारी और किसान मिलकर राजस्थान का बाजरा यहां लाकर बेचने के धंधे में जुट गए हैं। इतना ही नहीं, पंजाब में किसानों के आंदोलन के चलते हरियाणा का यूरिया पंजाब के पड़ोसी जिलों में बेचा जा रहा है। यह काम भी व्यापारियों की मिलीभगत से कुछ किसान करने में लगे हैं। हरियाणा सरकार के पास ऐसी सूचनाएं आई तो सरकार चौकस हो गई है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने साथ ही तीन कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलनों पर भी चिंता जाहिर की है। उन्होंने कहा कि कुछ संगठनों व विपक्ष ने यह भ्रम फैलाया कि हमारी मंडिया व एमएसपी खत्म हो रहे हैं। डेढ़ माह से हरियाणा में धान, मूंग, मूंगफली, कपास और बाजरे की खरीद हो रही है। एमएसपी पर मंडियों के माध्यम से ही यह खरीद की जा रही है। भविष्य में सरकार इन मंडियों को बढ़ाने जा रही है। तीनों कानूनों के कारण ही किसानों को अपनी फसल का एमएसपी से ज्यादा रेट हासिल करने का अवसर मिल रहा है। इससे पहले वह खुले में अपना अनाज नहीं बेच सकते थे। केंद्र जिन फसलों का एमएसपी तय नहीं करता है, वह फसल भी हरियाणा सरकार खरीद रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान में बाजरा 1300 रुपये क्विंटल हैं। वहां खरीदा नहीं जा रहा है। कुछ लोग राजस्थान से थोड़े लालच में बाजरा खरीदकर यहां बेच रहे हैं। यह कुकृत्य है। इससे हरियाणा का किसान प्रभावित होगा। पिछले साल तीन लाख मीट्रिक टन बाजरा खरीदा गया। अभी तक इस बार छह लाख मीट्रिक टन खरीदा जा चुका है। सीएम ने हरियाणा के किसानों को चेताते हुए कहा कि वह सतर्क रहें कि यहां का यूरिया पंजाब की तरफ न जाने दें। यूरिया सीमित मात्रा में मिलता है। हिन्दुस्थान समाचार/संजीव/नरिंदर जग्गा-hindusthansamachar.in