उप्र में 24 घंटे में कोरोना के सर्वाधिक 2,984 नए मामले, रिकॉर्ड 57,068 नमूनों की जांच

उप्र में 24 घंटे में कोरोना के सर्वाधिक 2,984 नए मामले, रिकॉर्ड 57,068 नमूनों की जांच
उप्र में 24 घंटे में कोरोना के सर्वाधिक 2,984 नए मामले, रिकॉर्ड 57,068 नमूनों की जांच

- प्रदेश में 22,452 सक्रिय मामले, अब तक 39,903 मरीज इलाज से हुये ठीक संजय कुमार लखनऊ, 25 जुलाई (हि.स.)। प्रदेश में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामले स्वास्थ्य महकमे के सामने बड़ी चुनौती बने हुए हैं। तामम कोशिशों के बाद भी राज्य में संक्रमण की रफ्तार थम नहीं रही है। राज्य में बीते 24 घंटे में एक बार फिर नए मामलों का रिकार्ड टूटा और यह संख्या तीन हजार के करीब पहुंच गई। इस दौरान अब तक के सर्वाधिक 2,984 मामले सामने आए। इससे पहले सरकार की ओर से शुक्रवार को यह संख्या 2,712 बताई गई थी। अब तक संक्रमण से कुल 1,387 लोगों की हो चुकी है मौत राज्य के अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टंडन ने शनिवार को बताया कि कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या अब 75 जनपदों में 22,452 हो गई है। अब तक 39,903 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होकर घर लौट आए हैं। वहीं पूरे प्रदेश में अब तक इस वायरस से कुल 1,387 लोगों की मौत हो चुकी है। 17,62,416 कोरोना नमूनों की हो चुकी है जांच उन्होंने बताया कि प्रदेश में शुक्रवार को पहली बार प्रतिदिन होने वाली कोरोना जांच का आंकड़ा 57 हजार के पार पहुंच गया और रिकार्ड 57,068 नमूनों की जांच की गई। यह एक दिन में जांच किए गए नमूनों की अभी तक की सर्वाधिक संख्या है। इनमें आरटीपीसीआर, एंटीजन टेस्ट और ट्रूनैट जांच शामिल है। इसके साथ ही राज्य में अब तक कुल 17,62,416 कोरोना नमूनों की जांच हो चुकी है। 3,484 पूल के जरिए 18,630 नमूनों की हुई जांच उन्होंने बताया कि शुक्रवार को 3,484 पूल के जरिए 18,630 नमूनों की जांच की गई। इनमें 3,242 पूल के जरिए प्रति पूल पांच-पांच नमूनों की जांच की गई। वहीं 242 पूल के जरिए प्रति पूल दस-दस नमूनों की जांच की गई। इससे पहले गुरुवार को 3,147 पूल के जरिए 17,075 नमूनों की जांच की गई। इनमें 2,879 पूल के जरिए प्रति पूल पांच-पांच नमूनों की जांच की गई, जिनमें 481 पूल पॉजिटिव आए। वहीं 268 पूल के जरिए प्रति पूल दस-दस नमूनों की जांच की गई, जिनमें 30 पूल पॉजिटिव आए। आरोग्य सेतु एप को लेकर 4.15 लाख लोगों को किया जा चुका है फोन उन्होंने बताया कि प्रदेश में 'आरोग्य सेतु' एप डाउनलोड करने वालों के जो अलर्ट मिल रहे हैं, उन्हें सम्बन्धित जनपदों को भेजा जा रहा है। वहीं कन्ट्रोल रूम के जरिए जो लोग संक्रमित लोगों के सम्पर्क में आये हैं, उन्हें फोन करके इसकी जानकारी दे रहे हैं। अब मुख्यमंत्री हेल्पलाइन-1076 भी इसमें मदद कर रही है और उसके जरिए भी लोगों को फोन किया जा रहा है। अभी तक 4,15,890 लोगों को फोन किया जा चुका है। इन्हें सतर्कता बरतने की सलाह दी गई है। 6.86 करोड़ लोगों के बीच पहुंची स्वास्थ्य टीमें उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक 1,87,593 टीमों ने 1,34,98,386 घरों के 6,86,73,598 करोड़ लोगों का सर्वेक्षण किया है। वहीं राज्य में अब तक 56,266 कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना की जा चुकी है। इनके माध्यम से 81,212 लक्षणात्मक लोगों की पहचान की गई है। कोविड टेस्टिंग वैन से जांच कराने का शासनादेश जारी इसके साथ ही प्रमुख निजी अस्पतालों में भर्ती मरीजों की कोविड टेस्टिंग वैन के जरिए जांच का शासनादेश जारी कर दिया गया है। यह वैन प्रतिदिन प्रमुख प्राइवेट अस्पतालों तक पहुंचेगी और अस्पताल प्रबन्धन अपने वहां नॉन कोविड इलाज के लिए भर्ती ऐसे मरीजों की जांच कराएगा, जिनमें कोरोना के लक्षण नजर आ रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.