उप्र में कोरोना का कहर: चौबीस घंटे में मिले 7,042 नए मरीज, कुल जांच का आंकड़ा 70 लाख के पार
उप्र में कोरोना का कहर: चौबीस घंटे में मिले 7,042 नए मरीज, कुल जांच का आंकड़ा 70 लाख के पार
देश

उप्र में कोरोना का कहर: चौबीस घंटे में मिले 7,042 नए मरीज, कुल जांच का आंकड़ा 70 लाख के पार

news

-सक्रिय मामलों की संख्या 66,317 पहुंची, अब तक 4,206 लोगों की संक्रमण के बाद हुई मौत लखनऊ, 10 सितम्बर (हि.स.)। प्रदेश में बीते चौबीस घंटे में कोरोना के रिकार्ड 7,042 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में पहली बार एक दिन में नए मरीजों की संख्या सात हजार के पार हुई है। इसके साथ ही कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या अब बढ़कर 66,317 हो गई है। राज्य में कुल 2,21,506 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं। अब तक 4,206 लोगों की संक्रमण के बाद मौत हुई है। इनमें बीते चौबीस घंटों में 94 मरीजों की जान गई है। मरीजों के ठीक होने की दर में गिरावट राज्य में संक्रमण के नए मामलों के मद्देनजर मरीजों के ठीक होने की दर में भी गिरावट देखने को मिली है। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने गुरुवार को बताया कि वर्तमान में रिकवरी दर 75.85 प्रतिशत ह, जबकि बुधवार को यह 76.09 प्रतिशत थी। निजी लैब अब जांच के लिए 1600 रुपये से अधिक नहीं ले सकेंगी इसके साथ ही प्रदेश सरकार ने निजी लैब में कोरोना की जांच को लेकर नई दरें निर्धारित कर दी हैं। अभी तक यह दर 2,500 रुपये निर्धारित थी। लेकिन आज से इसे घटाकर 1,600 रुपये कर दिया गया है। एक दिन में 1.49 लाख कोरोना नमूनों की जांच राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में बुधवार को कुल 1,49,311 कोरोना नमूनों की जांच की गई। इसके साथ ही प्रदेश अब कुल जांच का आंकड़ा 70,66,208 हो गया है। 2,638 पूल के जरिए 14,250 नमूनों की हुई जांच उन्होंने बताया कि बुधवार को 2,638 पूल के जरिए 14,250 नमूनों की जांच की गई। इनमें 2,426 पूल के जरिए प्रति पूल पांच-पांच नमूनों की जांच की गई, जिसमें 371 पूल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वहीं 212 पूल के जरिए प्रति पूल दस-दस नमूनों की जांच की गई, जिसमें 31 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। 11.21 करोड़ लोगों के बीच पहुंची स्वास्थ्य टीमें स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक 96,865 इलाकों में 3,36,515 टीमों ने 2,24,86,719 करोड़ घरों का सर्वेक्षण किया है। इसके तहत 11,21,89,682 लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई है। प्रदेश में अब तक 64,447 कोविड हेल्प डेस्क स्थापित प्रदेश में कुल 64,447 'कोविड हेल्प डेस्क' की स्थापना की जा चुकी है। इनके जरिए 7,31,696 लक्षणात्मक लोगों की पहचान की गई। इनमें ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर उपलब्ध हैं। इन सभी इकाइयों में सैनिटाइजर की पर्याप्त उपलब्धता की गई है। ई-संजीवनी पोर्टल से बुधवार को 1,653 लोगों ने उठाया लाभ इसके साथ ही ई-संजीवनी पोर्टल का प्रदेश के लोग लगातार इस्तमाल कर रहे हैं, इस पोर्टल से घर बैठे डॉक्टरों से सलाह ले सकते हैं। बुधवार को 1,653 लोगों ने इस सुविधा का लाभ उठाया। अब तक कुल 68,256 लोग इस पोर्टल के जरिए चिकित्सीय लाभ ले चुके हैं। इस वर्ष 01 सितम्बर से 09 सितम्बर तक की गई 10,260 सर्जरी अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि राज्य में कोविड केयर के साथ नॉन कोविड केयर पर भी पूरी तरह ध्यान दिया जा रहा है। प्रदेश में बीते वर्ष 01 सितम्बर से 09 सितम्बर तक सरकारी अस्पतालों में जहां 6,356 मेजर सर्जरी और 11,845 माइनर सर्जरी की गई। कोरोना संक्रमण काल के बावजूद इस वर्ष इसी समयावधि में 4,736 मेजर सर्जरी और 5,524 माइनर सर्जरी की गई। आरोग्य सेतु एप को लेकर 10.56 लाख लोगों को किया जा चुका है फोन प्रदेश में 'आरोग्य सेतु' एप डाउनलोड करने वालों के जो अलर्ट मिल रहे हैं, उन्हें कन्ट्रोल रूम और मुख्यमंत्री हेल्पलाइन-1076 के जरिए फोन किया जा रहा है। अभी तक 10,56,431 लोगों को फोन कर सतर्कता बरतने की सलाह दी गई है। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/राजेश /रामानुज-hindusthansamachar.in