आवास-में-कमी-के-कारण-अपने-ही-समूह-के-साथ-प्रजनन-को-बाध्य-हो-रहे-हैं-भारतीय-बाघ
आवास-में-कमी-के-कारण-अपने-ही-समूह-के-साथ-प्रजनन-को-बाध्य-हो-रहे-हैं-भारतीय-बाघ
देश

आवास में कमी के कारण अपने ही समूह के साथ प्रजनन को बाध्य हो रहे हैं भारतीय बाघ

news

नयी दिल्ली, 23 फरवरी (भाषा) दुनिया भर में पायी जाने वाली बिल्लियों की प्रजातियों में सबसे ज्यादा जेनेटिक विविधता भारतीय बाघों में पायी जाती है लेकिन उनके आवास में कमी आने के कारण वह छोटे-छोटे समूहों में बंट गए हैं। इसके फलस्वरूप अब बाघ सिर्फ अपने समूह के भीतर ही क्लिक »-www.ibc24.in