आजादी के बाद पहली बार मुलायम के गांव सैफई में दलित प्रधान 

आजादी के बाद पहली बार मुलायम के गांव सैफई में दलित प्रधान 
आजादी-के-बाद-पहली-बार-मुलायम-के-गांव-सैफई-में-दलित-प्रधान 

आजादी के बाद पहली बार समाजवादी नेता मुलायम सिंह यादव के पैतृक गांव सैफई का प्रतिनिधित्व एक दलित व्यक्ति करेगा. मुलायम सिंह यादव के करीबी विश्वासपात्र रामफल बाल्मीकि को सैफई के ग्राम प्रधान के रूप में चुना गया है, जहां 48 वर्षों के लंबे समय के बाद पहली बार चुनाव क्लिक »-hindi.thequint.com