अदालतों को उनके कार्य की कोई प्रशंसा नहीं मिलती: अदालत

अदालतों को उनके कार्य की कोई प्रशंसा नहीं मिलती: अदालत
अदालतों-को-उनके-कार्य-की-कोई-प्रशंसा-नहीं-मिलती-अदालत

नयी दिल्ली| दिल्ली उच्च न्यायालय ने बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी में पटरियों पर अवैध रूप से बैठने और बिक्री गतिविधियों से संबंधित याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए कहा, ‘‘अदालतें जो काम करती हैं उससे उन्हें कोई प्रशंसा नहीं मिलती, बल्कि उसे नाराजगी ही मिलती है।’’ न्यायमूर्ति विपिन सांघी और न्यायमूर्ति क्लिक »-www.prabhasakshi.com

अन्य खबरें

No stories found.