अक्षय तृतीया को सर्वाधिक शुभ दिन क्यों माना जाता है ? क्या है पूजन विधि और व्रत कथा ?

अक्षय तृतीया को सर्वाधिक शुभ दिन क्यों माना जाता है ? क्या है पूजन विधि और व्रत कथा ?
अक्षय-तृतीया-को-सर्वाधिक-शुभ-दिन-क्यों-माना-जाता-है-क्या-है-पूजन-विधि-और-व्रत-कथा-

अक्षय तृतीया या आखा तीज वैशाख मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को कहा जाता है। इस वर्ष यह पर्व 14 मई को पड़ रहा है लेकिन पिछले साल की तरह इस बार भी लॉकडाउन के कारण लोगों को घरों पर ही यह पर्व मनाना पड़ेगा। पौराणिक ग्रंथों में क्लिक »-www.prabhasakshi.com

अन्य खबरें

No stories found.