बड़ी खबरें

रोशनी देने वाली जल विद्युत परियोजना खुद अंधेरे में

रोशनी देने वाली जल विद्युत परियोजना खुद अंधेरे में

मनीष साह गरमपनी : रामगाढ़ लघु जल विद्युत परियोजना वक्त के थपेड़ों से कम नीति नियंताओं की उपेक्षा से ज्यादा बेजार है। बेशक ढाई दशक पुरानी यह प्रोजेक्ट 'कुमाऊं की लाइफ लाइन' अल्मोड़ा-हल्द्वानी हाईवे के आसपास 433 घरों को रोशन कर रहा। मगर रखरखाव के अभाव में जर्जर हो चले खंभे व तार जवाब दे सकते हैं। यदि जल्द ठोस कदम न उठाए गए तो दो मोबाइल टॉवर्स को दी जा रही बिजली भी ठप हो सकती है। वहीं मशीनें भी मरम्मत की बाट जोह रही। हाईवे के इर्दगिर्द बसे गांवों को विद्युत से जोड़ने के मकसद से तत्कालीन उत्तर प्रदेश सरकार ने वर्ष 1990 में रामगाढ़ लघु जल बिजली परियोजना स्थापित की। उत्पादन बढ़ा तो
www.jagran.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2018. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.