कोरोना संक्रमण के बीच, लोगो के आत्महत्या के मामलों में आई तेजी, जिले भर में 1 मई से 3 जून तक 42 लोगो ने की आत्महत्या
news

कोरोना संक्रमण के बीच, लोगो के आत्महत्या के मामलों में आई तेजी, जिले भर में 1 मई से 3 जून तक 42 लोगो ने की आत्महत्या

news

मुंबई,16 जून (हि.स.)। परिवारिक कलह और प्रताडऩा के मामले लगातार बढ़े हैं। लॉकडाउन का तनाव, घरेलू कलह और प्रताडऩा लोगों की जिंदगी पर भारी पड़ रहा है। आलम यह है कि लॉकडाउन के बाद जारी अनलॉक में भी पालघर में आत्महत्या के मामले लगातार बढ़ रहे है। शनिवार और रविवार को एक महिला सहित चार लोगों ने आत्महत्या कर ली है। जिले में लगातार बढ़ते कोरोना के प्रकोप ने अब 61 लोगो की जान ले ली है। तो वही कोरोना कारण बढ़ी बेरोजगारी और तनाव ने अब तक जिले भर में 1 मई से 3 जून तक 42 लोगो ने आत्महत्या कर ली है। पुलिस के प्रवक्ता सचिन नवाड़कर ने बताया कि ज्यादा तर मामले ऐसे है, जिनमे अज्ञात कारणों से लोगो ने आत्महत्या की है। मनोचिकित्सक भी जिले में बढ़ती आत्महत्याओं की इस प्रवृत्ति से हैरान हैं। अभी तक एकल परिवार, कामकाज की भाग-दौड़ भरी जिंदगी का तनाव आत्महत्याओं का कारण बन रहा था। लॉकडाउन में परिवार एकल से संयुक्त रूप में आ गए हैं। इसके बावजूद आत्महत्याओं के मामले लगातार बढ़ रहे है। हिन्दुस्थान समाचार/योगेन्द्र/ राजबहादुर-hindusthansamachar.in