इसे भी पढ़ें राजनीतिक हिंसा के बीच बदलने नाम नहीं ले रहीं ममता बनर्जी Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

इसे भी पढ़ें: राजनीतिक हिंसा के बीच बदलने के नाम नहीं ले रहीं ममता बनर्जी

इसे भी पढ़ें: राजनीतिक हिंसा के बीच बदलने के नाम नहीं ले रहीं ममता बनर्जी

लोकतंत्र श्रेष्ठ प्रणाली है। पर उसके संचालन में शुद्धता हो। लोक जीवन में लोकतंत्र प्रतिष्ठापित हो और लोकतंत्र में लोक मत को अधिमान मिले। यह प्रणाली उतनी ही अच्छी हो सकती है जितने कुशल चलाने वाले होते हैं। अधिकारों का दुरुपयोग नहीं हो मतदाता स्तर पर भी और प्रशासक स्तर पर भी। लेकिन दुर्भाग्य ... क्लिक »

www.prabhasakshi.com

अन्य सम्बन्धित समाचार


www.prabhasakshi.com से अधिक समाचार