बड़ी खबरें

चम्पावत में घट रही कुपोषित बच्चों की तादात

चम्पावत में घट रही कुपोषित बच्चों की तादात

जिले में कुपोषित और अतिकुपोषित बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से पोषाहार व्यवस्था शुरू होने से कुपोषण के शिकार बच्चों की तादात में गिरावट आ रही है। हालांकि कुपोषण के जड़ से खात्मे के लिए अब भी प्रयास की जरूरत है। जिले के विभिन्न आंगनबाड़ी केन्द्रों में पंजीकृत बच्चों की संख्या 23 424 है। इसमें 4560 कुपोषित तथा 301 अतिकुपोषित हैं। यह आंकड़े वर्ष 2013 से 2017 जनवरी तक के हैं। पिछले चार वर्षों में कुपोषित और अतिकुपोषित बच्चों की संख्या में काफी कमी दर्ज की गई है। जिले में 397 पूर्ण आंगनबाड़ी केन्द्र एवं 284 मिनी आंगनबाड़ी केन्द्र हैं। इन केंद्रों में पंजीकृत 0 से 6 वर्ष तक के 17 फीसदी
www.livehindustan.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2018. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.