आठवें चरण के चुनाव से पहले बीरभूम में तीन और अधिकारियों का तबादला

आठवें चरण के चुनाव से पहले बीरभूम में तीन और अधिकारियों का तबादला
three-more-officers-transferred-in-birbhum-before-eighth-phase-election

कोलकाता, 26 अप्रैल (हि.स.)। पश्चिम बंगाल में सोमवार को आठवें चरण के चुनाव से पहले बीरभूम के तीन और पुलिस अधिकारियों का तबादला किया गया है। नलहाटी थाना के प्रभारी कोविड से संक्रमित हुए है। दुबराजपुर में एक नया ओसी नियुक्त किया गया है, हालांकि निवर्तमान ओसी को अभी तक कोई पोस्टिंग नहीं दी गई है। प्रसेनजीत दत्त को दुबराजपुर का नया ओसी नियुक्त किया गया है। बता दें कि बीरभूम बहुत संवेदनशील इलाका है। पिछले कुछ दिनों में बीरभूम बार-बार राजनीतिक हिंसा की घटनाएं हुई हैं। शांतिपूर्ण और निष्पक्ष मतदान कराना चुनाव आयोग की बड़ी चुनौती है। हाल में नागेंद्रनाथ त्रिपाठी को बीरभूम के पुलिस अधीक्षक नियुक्त किया गया है। नागेंद्रनाथ त्रिपाठी को नंदीग्राम चुनाव के दौरान विशेष दायित्व दिया गया था। इस आईपीएस अधिकारी को नंदीग्राम चुनाव की सुबह से बहुत दबंग अंदाज में देखा गया था। नंदीग्राम के बोयाल बूथ पर ममता बनर्जी के धरने पर बैठने के बाद नागेंद्रनाथ त्रिपाठी सुर्खियों में आये थे। हाल में उनका बीरभूम जैसे संवेदनशील क्षेत्र में तबादला किया गया है। उनकी नियुक्ति पर टीएमसी ने सवाल उठाए थे। बोलपुर में बीरभूम जिले के टीएमसी अनुब्रत मंडल लगातार सुर्खियों में रहते हैं। इसके पहले 2016 के विधानसभा चुनाव के दौरान विरोधी दलों की शिकायत पर चुनाव आयोग ने अनुब्रत मंडल को नजरबंद किया था। कुछ दिन पहले ही ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग और केंद्रीय अर्धसैनिक बल पर निशाना साधते हुए कहा था कि यदि अनुब्रत मंडल को इसबार नजरबंद किया गया, तो वह सर्वोच्च न्यायालय जाएंगी। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश