यात्रियों की कमी के कारण पांच दिनों में रेलवे ने रद की 22 जोड़ी ट्रेनें

यात्रियों की कमी के कारण पांच दिनों में रेलवे ने रद की 22 जोड़ी ट्रेनें
railways-canceled-22-pairs-of-trains-in-five-days-due-to-shortage-of-passengers

कोलकाता, 22 मई (हि. स.)। यात्रियों की कमी के कारण रेलवे ने विगत पांच दिनों में 44 ट्रेनों को रद्द कर दिया है। पूर्व रेलवे की ओर से शनिवार को जारी बयान में इस बारे में जानकारी दी गई है। कोरोना के बढ़ते प्रकोप एवं बंगाल सहित विभिन्न राज्यों में जारी लॉकडाउन के चलते रेलवे को दूरगामी ट्रेनों में सफर के लिए इस समय यात्री नहीं मिल रहे हैं। यात्रियों की भारी कमी के कारण पूर्व रेलवे को ही बीते पांच दिनों में लंबी दूरी की 44 से ज्यादा विशेष मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों को रद करना पड़ा है। इन ट्रेनों का परिचालन 19 मई और उसके बाद की तारीखों के लिए अगले आदेश तक रोका गया है। पूर्व रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (सीपीआरओ) एकलव्य चक्रवर्ती ने बताया कि हाल ही में यात्रियों की संख्या में भारी गिरावट इन ट्रेनों को रद करने की एकमात्र वजह है। उन्होंने बताया कि जिन ट्रेनों में 20 फीसद से भी कम यात्री सफर कर रहे हैं उसको हम रद करने के लिए मजबूर हो जाते हैं। इसी कारण बड़ी संख्या में यानी 20 जोड़ी से ज्यादा विशेष ट्रेनों को अगले आदेश तक रद करने का फैसला लिया गया है। पूर्व रेलवे द्वारा रद की जाने वाली अधिकतर ट्रेनें बिहार, झारखंड व उत्तर बंगाल की हैं। उल्लेखनीय है कि बंगाल में इस समय कोरोना की वजह से 16 मई से सख्त पाबंदियां लगाई गई हैं। साथ ही राज्य सरकार ने गाइडलाइंस जारी कर रखी है कि कोरोना निगेटिव रिपोर्ट वालों को ही प्रदेश में एंट्री की इजाजत है। इन सब वजहों से कई ट्रेनें खाली चल रही थीं। इसके अलावा बंगाल में पूर्ण लॉकडाउन की वजह से बस, लोकल ट्रेनें व अन्य यात्री परिवहन सेवा भी इस समय बंद है, जिसके चलते यात्रियों को ट्रेन पकड़ने के लिए स्टेशनों पर जाने या दूसरे राज्यों से आने वाले यात्रियों को अपने गंतव्य तक जाने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसकी वजह से भी यात्रियों की भारी कमी देखी गई है। जिसके चलते रेलवे को ट्रेनों को रद करने का फैसला लेना पड़ा है। पूर्व रेलवे की ओर से ये सभी 44 ट्रेनें बंगाल में 16 मई से पूर्ण लॉकडाउन लागू होने के बाद से रद की गई है। इनमें 10 ट्रेनों को 18 मई को रद किया गया। आठ ट्रेनों को 19 मई को 20 ट्रेनों को 20 मई को एवं छह ट्रेनों को 21 मई को रद करने का फैसला लिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/गंगा