यश' को लेकर सतर्क रेलवे अधिकारी, विभिन्न विभागों में निर्देशिका

यश' को लेकर सतर्क रेलवे अधिकारी, विभिन्न विभागों में निर्देशिका
railway-officials-cautious-about-fame-directory-in-various-departments

कोलकाता, 22 मई (हि. स.)। साइक्लोन 'यस' को देखते हुए शनिवार से रेलवे के विभिन्न वर्गों पहले ही तैयारियां शुरू कर दी हैं। इस क्रम में रेलवे अस्पतालों को इस तूफान से बचाने के लिए कई आपातकालीन उपाय किए जा रहे हैं। इसके अलावा, दुर्घटना की स्थिति में, राहत ट्रेनों और कर्मचारियों को तैयार रहने को कहा गया है। पानी के पंपों से लेकर वैकल्पिक बिजली आपूर्ति, दवाओं की आपूर्ति रखने को कहा गया है। पानी के जमाव से आवश्यक सामग्री ताकि यह क्षतिग्रस्त न हो। इसलिए उसे हटाने का निर्देश दिया गया है। फिलहाल रेलवे का हर अस्पताल संक्रमित मरीजों को भर्ती है। इनमें से कई की हालत नाजुक बनी हुई है। इसलिए स्टाफ को सतर्क रहने के लिए कहा गया है ताकि चिकित्सा में असुविधा न हो। इसके अलावा कारशेड या बड़े स्टेशनों पर खड़ी ट्रेनों को जंजीर से बांधा जाएगा। बोगियों को भी लाइन में जंजीर से बांधा जाएगा ताकि बोगियां लुढ़कें नहीं। लोकल यात्री ट्रेनें बंद हैं। हालांकि लंबी दूरी की ट्रेनें चल रही हैं। नतीजतन रेलवे को तूफान के बारे में सोचना पड़ रहा है। शुक्रवार को ही पूर्व रेलवे के जीएम मनोज जोशी ने विभागीय अधिकारियों और डीआरएम के साथ आपात बैठक कर इस संबंध में कई निर्देश दिए थे। 25 मई से 26 मई तक दक्षिण 24 परगना के तट पर तूफान का खतरा है। उन दिनों जीएम ने सियालदह और हावड़ा डिविजन को उपयुक्त व्यवस्था करने का निर्देश दिया है। अधिकारियों ने दोनों डिवीजन के इंजीनियरिंग, ऑपरेशन और सिग्नलिंग विभागों को तूफान से निपटने के लिए सभी जरूरी इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं। हावड़ा के डीआरएम सुमित नरूला ने कहा कि हावड़ा कारशेड क्षेत्र में पानी भर जाने की संभावना है। इसलिए इस इलाके से सभी ट्रेनों को हटा दिया जाएगा और इसे कहीं और रखने के अलावा ड्रेनेज सिस्टम को उपयुक्त रखा जाएगा। पानी निकालने के लिए पंपों को चालू रखा जाएगा। ओवरहेड तारों टूटने से उसके खतरे को देखते हुए टावर वैन को तैयार रखने के अलावा बिजली विभाग के कर्मचारियों को 24 घंटे काम पर उपस्थित रहना होगा। इसी तरह, रेलवे के ओवरहेड तारों और अन्य हिस्सों में पेड़ की शाखाएं गिरने की स्थिति से निपटने के लिए कर्मियों को तैनात किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/सुगंधी/गंगा

अन्य खबरें

No stories found.