now-iit-students-will-be-helpful-in-making-inclusive-plans-for-all-people
now-iit-students-will-be-helpful-in-making-inclusive-plans-for-all-people
पश्चिम-बंगाल

अब सभी लोगों के लिए समावेशी योजना बनाने में मददगार बनेंगे आईआईटी छात्र

news

कोलकाता, 04 फरवरी (हि.स.)। शहरी क्षेत्रों में रहने वाले आम लोगों के हर एक वर्ग को सरकार के शहरीकरण योजना के तहत लाभान्वित करने के लक्ष्य के साथ अब आईआईटी के इंजीनियर काम करेंगे। इसके लिए पश्चिम बंगाल में स्थित मशहूर संस्थान आईआईटी खड़गपुर ने समाज के सभी वर्गों के लिए समावेशी सार्वभौमिक शहरी योजना की रूपरेखा विकसित करने को लेकर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ अर्बन अफेयर्स (एनआईयूए) के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। इंस्टीट्यूट के एक प्रवक्ता ने गुरुवार को एक यह जानकारी दी है। संस्थान के वास्तुकला एवं क्षेत्रीय योजना विभाग के प्रोफेसर सुब्रत चटर्जी ने कहा कि रूपरेखा में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि बुजुर्ग एवं दिव्यांग समेत सभी लोगों को परिवहन, मनोरंजन, आजीविका और सूचना उपलब्ध रहे। उन्होंने शहरी सीमा के भीतर सभी लोगों के लिए सुरक्षित एवं स्वतंत्र आवाजाही के लिए सहज पहुंच और एक पूर्ण यात्रा श्रृंखला की आवश्यकता पर जोर दिया। प्रोफेसर ने बताया कि इससे समाज के प्रत्येक वर्ग के लोगों का जीवन आसान बनाने में मदद मिलेगी। आईआईटी खड़गपुर के निदेशक प्रोफेसर बिरेंद्र तिवारी ने कहा कि हम सभी लोगों के लिए बेहतर जीवन जीना सुनिश्चित करने के व्यपाक लक्ष्य की प्राप्ति के लिए एनआईयूए से समझौता करके गर्व महसूस कर रहे हैं।” उन्होंने बताया कि अमूमन शहरीकरण की योजनाएं लागू होने के बाद इसका लाभ सीमित लोगों तक रह जाता है लेकिन इस नए समझौते के बाद शहरी क्षेत्रों में जनजीवन और आसान बनेगा। हिन्दुस्थान समाचार /ओम प्रकाश/सुगंधी-hindusthansamachar.in