उत्तर बंगाल में आयोजित हुई जगन्नाथ देव की स्नान यात्रा

उत्तर बंगाल में आयोजित हुई जगन्नाथ देव की स्नान यात्रा
jagannath-dev39s-bathing-journey-organized-in-north-bengal

जलपाईगुड़ी, 24 जून (हि. स.)। कोरोना नियमों के अनुसार गुरुवार को जगन्नाथ देव की स्नान यात्रा पूरे उत्तर बंगाल में निकाला गया। हालांकि हर साल की तरह इस साल स्नान यात्रा के दिन श्रद्धालुओं की भीड़ इकट्ठा नहीं हुई। कूचबिहार के कुल देवता मदन मोहन का स्नान यात्रा गुरुवार शाही काल के रीति-रिवाजों के अनुसार आयोजित किया गया था। सरकारी प्रतिबंधों के अनुसार इस मौके पर सिर्फ गिने-चुने लोग ही मौजूद थे। देवत्रा ट्रस्ट बोर्ड के अनुसार मदन मोहन को 108 कलश पानी से नहलाया गया। झरने के पानी, नदी के पानी, घी, चंदन और शहद से स्नान यात्रा किया गया है। दूसरी ओर नियमों का पालन करते हुए जटेश्वर में जगन्नाथ देव की स्नान यात्रा संपन्न हुई। कोरोना संक्रमण के चलते इस बार स्नान यात्रा में थोड़ी कटौती की गई है। स्नानागार में मंदिर कमेटी के अलावा कोई बाहरी श्रद्धालु शामिल नहीं हुआ। गुरुवार सुबह बाजार के नजदीक मुजनाई नदी के गंगामंडल घाट से पानी लाया गया। उस जल से जगन्नाथ देव को मंदिर परिसर में स्नान कराया गया। मंदिर कमेटी की ओर से आयोजित स्नान यात्रा में शिव मंदिर कमेटी के पदाधिकारियों सहित मंदिर के पुजारियों ने भी हिस्सा लिया। हिन्दुस्थान समाचार/सुगंधी/गंगा

अन्य खबरें

No stories found.