घुसपैठियों को वैक्सीन नहीं धक्का देकर निकालेंगे बाहर : दिलीप घोष

घुसपैठियों को वैक्सीन नहीं धक्का देकर निकालेंगे बाहर : दिलीप घोष
intruders-will-not-be-pushed-out-by-vaccine-dilip-ghosh

12/04/2021 कोलकाता, 12 अप्रैल (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने एक बार फिर घुसपैठियों को लेकर बड़ा बयान दिया है। सोमवार को सेंट्रल पार्क में मीडिया से मुखातिब घोष ने कहा कि ममता बनर्जी की शह पर बांग्लादेशी घुसपैठिए राज्य की न केवल जनसांख्यिकी बिगाड़ रहे हैं बल्कि अपराध को भी बढ़ावा दे रहे हैं। कोविड-19 संकट के समय मुफ्त वैक्सीन उपलब्ध कराए जाने के सवाल पर दिलीप घोष ने कहा कि घुसपैठियों को वैक्सीन लगाने का सवाल ही पैदा नहीं होता। दो मई को भारतीय जनता पार्टी की सरकार बननी तय हो जाएगी और उसके बाद बांग्लादेशी घुसपैठियों को धक्का लगा कर बाहर निकाला जाएगा। उन्होंने यह भी दावा किया कि बंगाल में चार चरणों के मतदान के दौरान भारतीय जनता पार्टी 100 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने शतक लगाया है। कूचबिहार के सीतलकुची में फायरिंग की घटना का जिक्र करते हुए दिलीप घोष ने कहा कि ममता बनर्जी ने लोगों को सेंट्रल फोर्स पर हमले के लिए उकसाया था। उन्होंने लोगों को मौत के मुंह में धकेला है और अब उनकी मौत पर राजनीति करना चाहती हैं। चुनाव आयोग ने कूचबिहार में नेताओं के प्रवेश पर रोक लगाकर सही किया है। किसी की भी मौत पर राजनीति खत्म होनी चाहिए और आयोग का यह कदम ऐसा करने में मददगार है। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी बिल्कुल निचले दर्जे की राजनीति कर रही हैं। वह समाज में हिंसा, आक्रोश को बढ़ा रही हैं। जो पुलिस वाले उनके मन मुताबिक काम नहीं कर रहे हैं उन्हें धमकी दे रही हैं, गालियां दे रही हैं लेकिन अब कोई फायदा होने वाला नहीं है। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश/मधुप