Commission directive before elections, non-bailable warrantees will have to be put in jail
Commission directive before elections, non-bailable warrantees will have to be put in jail
पश्चिम-बंगाल

चुनाव से पहले आयोग का निर्देश, गैर जमानती वारंटियों को डालना होगा जेल में

news

कोलकाता, 29 दिसम्बर (हि.स.)। पश्चिम बंगाल में अप्रैल-मई के बीच आसन्न विधानसभा चुनाव से पहले आयोग ने आपराधिक रिकार्ड रखने वालों पर सख्ती बरतने का निर्देश दे दिया है। राज्य चुनाव आयोग के सूत्रों ने बताया है कि राज्य प्रशासन को स्पष्ट तौर पर निर्देश दिए गए हैं कि जो भी अपराधी गैर जमानती वारंट जारी होने के बावजूद फरार हैं उन्हें चुनाव से पहले हर हाल में गिरफ्तार करना होगा। इसके लिए अभी से ही धड़ पकड़ अभियान शुरू करने को कहा गया है। कोलकाता पुलिस के साथ-साथ बंगाल पुलिस भी इसे लेकर सजग हो गयी है। मूल रूप से आर्म्स एक्ट, हत्या की कोशिश और रंगदारी वसूली जैसे संगीन मामलों से संबंधित अपराधियों को तत्काल पकड़ने का निर्देश दिया गया है। खबर है कि अकेले कोलकाता में ऐसे 5000 लोग हैं जिनकी तलाश पुलिस कर रही है। पूरे राज्य में ऐसे लोगों की संख्या और अधिक है। उन सभी को चुनाव से पहले जेल में डालने को कहा गया है। दरअसल आदर्श आचार संहिता लागू होने से पहले अपराधियों को जेल में डालने का नियम है। ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि चुनाव के दौरान आपराधिक तत्व मतदान प्रक्रिया में बाधा ना बनें और मतदाताओं को डराया धमकाया ना जाए। पश्चिम बंगाल में अमूमन राजनीतिक हिंसा आम बात है। इसीलिए आयोग ने राज्य प्रशासन को पहले से ही सावधानी बरतने का निर्देश दिया है। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश/सुगंधी/मधुप-hindusthansamachar.in