दो मई के बाद, मुख्यमंत्री को केवल तस्वीरें ही बनानी हैं : दिलीप घोष

दो मई के बाद, मुख्यमंत्री को केवल तस्वीरें ही बनानी हैं : दिलीप घोष
after-may-2-the-chief-minister-has-to-make-only-photographs-dilip-ghosh

नीलपुर(बर्दवान), 14 अप्रैल (हि.स.)। मंगलवार तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी के धरना प्रदर्शन के दौरान चित्र बनाने के बारे में टिप्पणी करते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि दो मई के बाद, मुख्यमंत्री को केवल चित्रकारी करनी पड़ेगी। और कोई काम नहीं होगा। तो उन्हें आदत में डाल ल। बुधवार सुबह दिलीप घोष बर्दवान के नीलपुर में 'चाय पे चर्चा' में उपस्थित थे। मंगलवार को रसिकपुर में दिलीप घोष के पद यात्रा पर हुए हमले को उन्होंने कहा कि हर जगह पर गुंडे अराजकता पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन भय दिखाकर अब मतदाता को प्रभावित नहीं किया जा सकता। हम किसी के पार्टी कार्यालय पर हमला नहीं करते। बिना नाम लिए तृणमूल हमला बोलते हुए कहा कि कल उन्होंने हमला करने की कोशिश की। हमारे लड़कों को रोका गया हैं। फिर आम लोगों को जो करना था किये। उन्होंने कहा कि सिर्फ बर्दवान नही बल्कि राज्य में कही भी यह गुंडागर्दी को जारी नहीं रहने देंगे। जंगलमहल में दीदीमनी की दुकान बंद कर दी गई है, इस बार मैं बर्दवान में भी उनकी दुकान बंद कर दूंगा। हम विपक्ष के रूप में एक या दो सीटें छोड़ देंगे। उन्होंने कहा कि बीरभूम से गुंडे आकर यहां अत्याचार कर रहे हैं। बर्दवान के लोगों ने बहुत जुल्म सहे हैं। चुनाव आयोग ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को सीतलकुची घटना पर टिप्पणी के लिए नोटिस जारी किया है। इस संदर्भ में बोलते हुए, दिलीप घोष ने कहा जिन लोगों ने सीतलकुची किया वो हार चुके हैं। प्रत्येक बूथ पर एक केंद्रीय बल होगा। मतदाता को कोई रोक नहीं सकता है। मतदान को रोका नहीं जा सकता। अगर कोई मारपीट करता है, तो उसे इसके परिणाम भुगतने होंगे। उन्होंने कहा कि साधारण लोग बदलाव चाहते हैं। जो लोग उस परिवर्तन को रोकना चाहते हैं, वे हमारे कार्यक्रम में बाधा दे रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/सुगंधी/गंगा