चुनाव बाद बंगाल में भाजपा के 31 कार्यकर्ताओं की हत्या का आरोप

चुनाव बाद बंगाल में भाजपा के 31 कार्यकर्ताओं की हत्या का आरोप
accused-of-killing-31-bjp-workers-in-bengal-after-elections

कोलकाता, 22 मई (हि.स.)। पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद भड़की हिंसा को लेकर प्रदेश भाजपा ने गंभीर आरोप लगाए हैं। दावा है कि पार्टी के 31 कार्यकर्ताओं को महज चंद दिनों में मौत के घाट उतार दिया गया। हत्या के आरोप सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कार्यकर्ताओं पर लगाए गए हैं। भाजपा ने बंगाल में दो मई को चुनाव नतीजों के बाद से अब तक राजनीतिक हिंसा में मारे गए अपने कार्यकर्ताओं की एक सूची जारी की है। भाजपा के आइटी सेल ने यह सूची जारी की है। इसमें दावा किया गया है कि मारे गए कार्यकर्ताओं में 14 अनुसूचित जाति (एससी) से, एक अनुसूचित जनजाति (एसटी) से एवं तीन अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) समुदाय से हैं। पार्टी ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में चुनाव नतीजों के बाद बदला लेने के लिए अपने कार्यकर्ताओं पर हमले व हत्या किए जाने का आरोप लगाया है। हालांकि सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा के आरोपों को खारिज किया है। हाल में सुप्रीम कोर्ट ने भी उस याचिका पर बंगाल सरकार से जवाब दाखिल करने को कहा है जिसमें मतगणना के बाद दो भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या के मामले की सीबीआइ जांच की मांग की गई है। सुप्रीम कोर्ट ने मृत भाजपा कार्यकर्ताओं के रिश्तेदारों की अर्जी पर सुनवाई करते हुए कुछ दिनों पहले नोटिस जारी किया है। अगले सप्ताह इस मामले पर सुनवाई होगी। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश/मधुप

अन्य खबरें

No stories found.