शुभेंदु के गढ़ कांथी में तृणमूल का शक्ति प्रदर्शन, कहा : जनता गद्दार और मीरजाफर के साथ नहीं, ममता के साथ
शुभेंदु के गढ़ कांथी में तृणमूल का शक्ति प्रदर्शन, कहा : जनता गद्दार और मीरजाफर के साथ नहीं, ममता के साथ
पश्चिम-बंगाल

शुभेंदु के गढ़ कांथी में तृणमूल का शक्ति प्रदर्शन, कहा : जनता गद्दार और मीरजाफर के साथ नहीं, ममता के साथ

news

कोलकाता, 23 दिसम्बर (हि.स.)। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के पूर्व सहयोगी और राज्य के कद्दावर नेता शुभेंदु अधिकारी के गढ़ में तृणमूल कांग्रेस ने बुधवार को शक्ति प्रदर्शन किया है। शुभेंदु के भाजपा में शामिल होने के बाद तृणमूल ने पूर्व मेदिनीपुर के कांथी में विशाल जुलूस निकाला है। जुलूस का नेतृत्व सांसद सौगत रॉय और मंत्री फिरहाद हकीम ने किया। जुलूस में तृणमूल विधायक अखिल गिरि व अन्य नेता भी शामिल हुए। हालांकि जुलूस में शुभेंदु के परिवार का कोई सदस्य शामिल नहीं हुआ। शुभेंदु अधिकारी के परिवार के तीन सदस्य राजनीति में हैं। उनके पिता शिशिर अधिकारी और भाई द्विवेंदु अधिकारी तृणमूल के सांसद हैं। पार्टी की ओर से शिशिर अधिकारी को जुलूस और सभा में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया था, लेकिन अस्वस्थता के कारण वह सभा में नहीं शामिल हुए। दूसरी ओर, द्विवेंदु अधिकारी ने कहा कि उन्हें जुलूस और सभा में शामिल होने के लिए कोई भी आमंत्रण नहीं मिला है। जनता ममता के साथ है - सौगत सांसद सौगत रॉय ने कहा कि जिस बड़ी संख्या में लोग इसमें शामिल हुए हैं उसने साबित कर दिया है कि जनता ममता बनर्जी के साथ हैं। पूर्व मेदिनीपुर के लोग ममता बनर्जी के साथ हैं। विधायक अखिल गिरि ने कहा कि पूर्व मेदिनीपुर की जनता ने साफ कर दिया है कि लोग ममता के साथ हैं। गद्दार और मीरजाफर के साथ नहीं। देश के लोग मीरजाफर को कभी माफ नहीं करते हैं। उल्लेखनीय है कि गुरुवार को कांथी में शुभेंदु अधिकारी भी सभा करेंगे और अपना शक्ति प्रदर्शन करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/सुगंधी-hindusthansamachar.in