राज्य की कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त : सायंतन
राज्य की कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त : सायंतन
पश्चिम-बंगाल

राज्य की कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त : सायंतन

news

कोलकाता, 23 जुलाई (हि. स.)। प्रदेश भाजपा के महासचिव सायंतन बसु ने आरोप लगाया कि राज्य की कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो गयी है। लॉक डाउन के नाम पर सरकार विरोधी दल के नेताओं को निशाना बना रही है और उनके प्रजातांत्रिक अधिकारियों का हनन कर रही है, जबकि तृणमूल कांग्रेस के विधायक कोरोना पोजिटिव पाये जाते हैं और 21 जुलाई को शहीद दिवस के कार्यक्रम में शामिल होते हैं। उन्होंने गुरुवार को पार्टी कार्यालय में पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तर दिनाजपुर के चोपड़ा में नाबालिग की दुष्कर्म कर हत्या कर दी गयी। आरोपित भी मृत पाया गया। पुलिस दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की जगह उसके भाई व पिता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष राजू बनर्जी गये थे। उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया गया। राज्य की गणंतात्रिक व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है। उत्तर 24 परगना के हड़वा में भी एक आदिवासी महिला के साथ दुष्कर्म किया गया। भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध किया, तो पुलिस ने उन्हें लाठी से पीटा। उन्होंने कहा कि राज्य में प्रत्येक दिन कोई न कोई घटना घट रही है। पश्चिम बंगाल सरकार आम लोगों आंदोलन को महत्व नहीं दे रही है। सरकार ने एक दिन के लॉक डाउन की घोषणा की है, लेकिन इससे कोई लाभ नहीं होने का है। सरकार को टेस्ट की संख्या बढ़ानी होगी। उन्होंने कहा कि हुगली के तणमूल के विधायक कोरोना पॉजिटिव पाये गये, लेकिन वह शहीद सभा की वर्चुअल सभा में हिस्सा लिया। एक विधायक के रूप में दायित्व का पालन नहीं किया। यह पूरी तरह से लज्जाजनक है। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/गंगा-hindusthansamachar.in