राज्यपाल ने कोरोना के रोकथाम के लिए जरूरी चीजों की खरीद में भ्रष्टाचार की न्यायिक जांच की मांग की
राज्यपाल ने कोरोना के रोकथाम के लिए जरूरी चीजों की खरीद में भ्रष्टाचार की न्यायिक जांच की मांग की
पश्चिम-बंगाल

राज्यपाल ने कोरोना के रोकथाम के लिए जरूरी चीजों की खरीद में भ्रष्टाचार की न्यायिक जांच की मांग की

news

कोलकाता, 12 सितम्बर (हि.स.)। पश्चिम बंगाल में महामारी कोरोना से बचाव के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने के लिये खरीद में व्यापक भ्रष्टाचार की न्यायिक जांच की मांग एक बार फिर राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने दोहराई है। शनिवार को उन्होंने इस संबंध मेंं ट्वीट किया। अपने ट्वीट में भ्रष्टाचार से संबंधित तथ्यों का जिक्र करते हुए उन्होंने लिखा कि पश्चिम बंगाल के लोगों की सेवा के लिए जो कुछ भी सहना पड़ेगा, सहूंगा लेकिन सेवा करना नहीं छोडूंगा। कोरोना किट से लेकर वेंटिलेटर खरीद तक में भ्रष्टाचार हुआ है। ममता बनर्जी को चाहिए कि इस भ्रष्टाचार के रहस्यों का उद्घाटन करने के लिए न्यायिक जांच करवाये। अभी तक पश्चिम बंगाल सरकार ने इसकी जांच के लिए जो भी कमेटी गठित की है, वह केवल लोगों को बरगलाने के लिए है। उल्लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल सरकार ने महामारी रोकथाम के लिए सामग्री खरीद की अनुमति दी थी, जिसमें करीब 2000 करोड रुपये के कथित भ्रष्टाचार होने की खबर है। मुख्यमंत्री ने भ्रष्टाचार की जांच करवाने के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है। इस संबंध में राज्यपाल का कहना है कि जांच में जिन लोगों को कमेटी का सदस्य बनाया गया है, वही भ्रष्टाचार में शामिल हैं। इसलिए इसकी न्यायिक जांच होनी चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश /सुगंधी-hindusthansamachar.in