मुस्लिम होने के कारण मदरसा शिक्षकों को गेस्ट हाउस से निकाला
मुस्लिम होने के कारण मदरसा शिक्षकों को गेस्ट हाउस से निकाला
पश्चिम-बंगाल

मुस्लिम होने के कारण मदरसा शिक्षकों को गेस्ट हाउस से निकाला

news

कोलकाता, 22 सितंबर (हि. स.)। राजधानी कोलकाता में मदरसा शिक्षकों को कथित तौर पर सिर्फ इसीलिए गेस्ट हाउस से बाहर जाने को कह दिया गया क्योंकि वह मुस्लिम थे और इस्लाम से संबंधित कपड़े पहने हुए थे।घटना आईटी शहर सॉल्टलेक की है। इस घटना के बाद इन शिक्षकों ने कहा कि पश्चिम बंगाल में उनके साथ ऐसा होगा वो ऐसा सोच भी नहीं सकते थे। दरअसल 10 मदरसा शिक्षकों के एक ग्रुप ने सॉल्ट लेक इलाके में एक गेस्ट हाउस बुक किया था। यह सभी शिक्षक मालदा से आए थे। सभी शिक्षकों को यहां एक मीटिंग में हिस्सा लेना था। लेकिन गेस्ट हाउस में चेक-इन करने के कुछ ही देर बाद गेस्ट हाउस प्रबंधन ने उन्हें बाहर जाने के लिए कह दिया। एक शिक्षक ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि उन्हें एक गेस्ट हाउस से दूसरे गेस्ट हाउस में जाने के लिए कहा गया। लेकिन यहां उनकी पहचान, उनके नाम और उनके कपड़ों की वजह से उन्हें कमरा नहीं दिया गया। अलीपुर मदरसा शिक्षा केंद्र के प्रधानाध्यापक महबर रहमान ने कहा कि उन्हें कमरा ना देने की वजह से सुनकर वो दंग रह गए। उन्होंने कहा कि ‘हम कोलकाता से यहां काम के सिलसिले में आए थे और अक्सर हम लॉज में ठहरते हैं। इस बार हम लॉक डाउन के कारण कई महीनों बाद यहां आए। हमने ऐसी समस्या का सामना इससे पहले कभी नहीं किया है। यह सोचकर हमारा दिल टूट गया कि ऐसा पश्चिम बंगाल में भी हो सकता है।’ शहर प्रशासन ने घटना का संज्ञान लिया है। इसके खिलाफ कार्रवाई हो सकती है। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/सुगंधी-hindusthansamachar.in