मुश्किल नजर आ रही सक्रिय राजनीति में  तथागत राय की वापसी
मुश्किल नजर आ रही सक्रिय राजनीति में तथागत राय की वापसी
पश्चिम-बंगाल

मुश्किल नजर आ रही सक्रिय राजनीति में तथागत राय की वापसी

news

कोलकाता, 16 सितंबर (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की सक्रिय राजनीति में मेघालय के पूर्व राज्यपाल तथागत रॉय की वापसी मुश्किल दिख रही है। इसकी वजह है कि पार्टी नेतृत्व उनकी वापसी को लेकर अधिक उत्साहित नहीं है। करीब एक महीने पहले ही उन्होंने केंद्रीय प्रभारी और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय से मुलाकात की थी और पार्टी में लौटने की इच्छा जाहिर की थी। रॉय ने यह भी दावा किया था कि पार्टी में उनके लौटने का मार्ग प्रशस्त हो गया है और 2 से 3 दिनों के अंदर ज्वाइन कर लेंगे लेकिन एक महीने से अधिक का वक्त बीत चुका है और उनकी जॉइनिंग को लेकर कोई सुगबुगाहट नहीं है। एक दिन पहले एक बार फिर उन्होंने विजयवर्गीय से मुलाकात की है। अब सूत्रों ने बताया है कि विजयवर्गीय ने तथागत रॉय के प्रदेश भाजपा में सक्रिय वापसी की बात केंद्रीय नेतृत्व को बताई थी लेकिन वहां से हरी झंडी नहीं मिली है। विजयवर्गीय के करीबी सूत्रों ने बताया कि विजयवर्गीय से मुलाकात में उन्हें बताया गया है कि केंद्रीय नेतृत्व फिलहाल इसके लिए तैयार नहीं है। तथागत रॉय पार्टी में केवल मार्गदर्शक के तौर पर बने रहेंगे। विजयवर्गीय ने कहा है कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने निर्णय लिया है कि तथागत राय के अनुभव का इस्तेमाल पार्टी राज्य की राजनीति में जरूर करेगी लेकिन सक्रिय राजनीति में फिलहाल उनकी वापसी संभव नहीं दिख रही है। गौर हो कि तथागत रॉय बंगाल भाजपा के अध्यक्ष रह चुके हैं और दिग्गज नेताओं में गिने जाते रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश/मधुप-hindusthansamachar.in