महालया के दिन दक्षिणेश्वर मंदिर बंद रखने का निर्देश
महालया के दिन दक्षिणेश्वर मंदिर बंद रखने का निर्देश
पश्चिम-बंगाल

महालया के दिन दक्षिणेश्वर मंदिर बंद रखने का निर्देश

news

कोलकाता, 12 सितम्बर (हि.स.)। इस वर्ष लोग दक्षिणेश्वर मंदिर के गंगा घाट पर महालया के अवसर पर तर्पण नहीं कर पाएंगे। अधिकारियों ने कोरोना महामारी के कारण गंगा घाट को महालया के दिन बंद रखने का निर्णय लिया है। बैरकपुर के पुलिस आयुक्त मनोज वर्मा ने कहा कि दक्षिणेश्वर के अधिकारियों को एक पत्र भेजा गया था, जिसमें लोगों को मंदिर में प्रवेश करने से रोकने के लिए कहा गया है। डीसी (दक्षिण) आनंद राय ने कहा, "अनगिनत लोग, महालया के दिन मंदिर परिसर में भीड़ लगाते हैं। लोगों की सुरक्षा के लिए मंदिर को बंद करने का प्रस्ताव दिया गया है। हर साल महालया के दिन लाखों लोग दक्षिणेश्वर मंदिर आते हैं। चांदनी घाट, बकुलतला और पंचवटी घाटों पर लोगों की काफी भीड़ होती है। हालांकि कोरोना स्थिति के कारण दक्षिणेश्वर मंदिर में कई नियम बनाए गए हैं। गंगा घाट पर जाने वाले रास्ते पर महालया के दिन बैरिकेडिंग की जाएगी। हर साल तीर्थयात्री मंदिर में आते हैं और महालया के दिन गंगा घाट में पूजा करते हैं। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए गंगा घाट के पास भारी पुलिस बल की तैनाती होगी। पार्किंग क्षेत्र भी बंद रहेगा। दूसरी ओर, हर साल असंख्य तीर्थयात्री बेलूर मठ में भी श्री शारदा मां के घाट पर इकट्ठा होते हैं और महालया के अवसर पर तर्पण करते हैं। बेलूर मठ में कई साधु और कार्यकर्ता पहले ही कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। इसलिए अधिकारियों ने लोगों की सुरक्षा के लिए गंगा घाट को बंद करने का फैसला किया। उल्लेखनीय है कि दुर्गा पूजा के लिए बस कुछ ही दिन बचे हैं। हर कोई उत्साहित है और दिन गिन रहा है। लेकिन इस साल कोरोना के कारण उत्सव पिछले वर्षों की तरह भव्य नहीं होगा। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश/सुगंधी-hindusthansamachar.in