बारहवीं का रिजल्ट घोषित, 90.13 फीसदी छात्र-छात्राएं सफल
बारहवीं का रिजल्ट घोषित, 90.13 फीसदी छात्र-छात्राएं सफल
पश्चिम-बंगाल

बारहवीं का रिजल्ट घोषित, 90.13 फीसदी छात्र-छात्राएं सफल

news

कोलकाता, 17 जुलाई (हि. स.)। पश्चिम बंगाल उच्च माध्यमिक का रिजल्ट शुक्रवार को घोषित कर दिया गया है। इस साल कक्षा 12वीं बोर्ड की परीक्षा में अब तक के सर्वाधिक 90.13 प्रतिशत छात्र-छात्राएं सफल रहे। पश्चिम बंगाल उच्च माध्यमिक शिक्षा परिषद (डब्ल्यूबीसीएचएसई) की अध्यक्ष महुआ दास ने नतीजों की घोषणा करते हुए कहा कि पिछले साल 86.29 प्रतिशत छात्र सफल हुए थे। उन्होंने बताया कि इस साल राज्य में उच्च माध्यमिक परीक्षाओं में कुल 7,61,583 छात्र-छात्राएं बैठे थे जिसमें से 6,80,057 सफल रहे । दास ने कहा कि राज्य में उच्च माध्यमिक परीक्षाओं के इतिहास में एक नया रिकार्ड बना है। कम से कम 30,000 छात्रों ने 90 प्रतिशत अंक हासिल किए। दास ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण कई परीक्षाएं स्थगित किए जाने के मद्देनजर इस साल मेधा सूची की घोषणा नहीं की गयी। हालांकि, आकलन के मुताबिक एक छात्र को 500 में से 499 अंक मिले। वेबसाइट पर जल्द ही मार्कशीट अपलोड कर दिए जाएंगे। कक्षा 12वीं की राज्य बोर्ड की परीक्षाएं 12 मार्च को शुरू हुई थी। महामारी के कारण 23, 25 और 27 मार्च को आयोजित होने वाली परीक्षाएं स्थगित कर दी गयी थीं। मुख्यमंत्री व राज्यपाल ने दी शुभकामनाएं - उच्च माध्यमिक की परीक्षा में सफल हुए छात्र -छात्राओं को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने शुभकामनाएं दी है। सीएम ने शुक्रवार शाम एक ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने लिखा है कि उच्च माध्यमिक की परीक्षाओं का परिणाम घोषित कर दिया गया है। छात्र अपने खूबसूरत जीवन में एक कदम और आगे बढ़े हैं। सभी को शुभकामनाएं। इसके साथ ही छात्रों के प्रिंसिपल, शिक्षकों और अभिभावकों को भी बधाइयां। भविष्य आप सबका इंतजार कर रहा है। राज्यपाल ने भी ट्विटर के जरिए शुभकामनाएं दी है। हालांकि उन्होंने इशारे-इशारे में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर छात्रों के हित की अनदेखी का भी आरोप लगाया। उन्होंने लिखा कि उच्च माध्यमिक परीक्षा पास करने वाले सभी छात्रों को शुभकामनाएं। अब वे कॉलेज जाएंगे। वे लोग जो सफल नहीं हो सके, उन्हें चिंता करने की जरूरत नहीं है बल्कि जीवन में सकारात्मकता लाकर एक और प्रयास करने की जरूरत है। उसके बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को टैग करते हुए राज्यपाल ने लिखा कि छात्रों के हित को प्राथमिकता देकर देखा जाना चाहिए ताकि उनका भविष्य संवरे। हिन्दुस्थान समाचार /ओम प्रकाश/गंगा-hindusthansamachar.in