बंगाल की एक और परियोजना को मिली यूएन की स्वीकृति
बंगाल की एक और परियोजना को मिली यूएन की स्वीकृति
पश्चिम-बंगाल

बंगाल की एक और परियोजना को मिली यूएन की स्वीकृति

news

कोलकाता, 10 सितम्बर (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा शुरू की गई एक और महत्वाकांक्षी परियोजना 'सबुज साथी' को भी संयुक्त राष्ट्र की स्वीकृति मिली है। इसके पहले बेटियों की शिक्षा के लिए शुरू की गई 'कन्याश्री' योजना को स्वीकृति मिली थी। यह मान्यता यूनाइटेड नेशंस वर्ल्ड समिट ऑन इन्फॉर्मेशन सोसाइटी से मिली है और यह उपलब्धि प्रदेश के लिए गर्व की बात है। पश्चिम बंगाल सरकार की इस परियोजना को बमुश्किल लड़ाई जीतने के बाद यह मान्यता मिली है। दुनिया के 162 देशों ने इसमें हिस्सा लिया। 172 देशों की 1,600 विभिन्न प्रकार की परियोजनाएं इसमें थीं। 2016 में राज्य की कन्याश्री परियोजना को संयुक्त राष्ट्र में विशेष पहचान मिली थी। तीन साल बाद, बंगाल को फिर से संयुक्त राष्ट्र से सम्मान मिला। मुख्यमंत्री ने बंगाल के छात्रों के बीच साइकिल वितरित करने के उद्देश्य से इस परियोजना का शुभारंभ किया था। इससे राज्य के विभिन्न गांवों, शहरों, कस्बों के छात्रों को स्कूल जाने में मदद मिली है। यह पर्यावरण के अनुकूल भी है। साइकिल पर्यटन पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचाती। साइकिल चलाना स्वास्थ के लिए भी अच्छा है। इस परियोजना को संयुक्त राष्ट्र से मान्यता मिलने पर बंगाल सरकार बहुत खुश है। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/बच्चन-hindusthansamachar.in