फेक न्यूज़ और हेट स्पीच पोस्ट करने वालों पर पुलिस की निगाह टेड़ी, पांच माह में 259 गिरफ्तार
फेक न्यूज़ और हेट स्पीच पोस्ट करने वालों पर पुलिस की निगाह टेड़ी, पांच माह में 259 गिरफ्तार
पश्चिम-बंगाल

फेक न्यूज़ और हेट स्पीच पोस्ट करने वालों पर पुलिस की निगाह टेड़ी, पांच माह में 259 गिरफ्तार

news

कोलकाता, 10 सितम्बर (हि.स.)। फर्जी खबरें फैलाने और सांप्रदायिक सद्भावना बिगड़ने के इरादे से सोशल साइट पर पोस्ट करने वालों पर पुलिस लगातार कार्रवाई है। पिछले पांच महीनों में कम से कम 259 लोगों को गिरफ्तार किया है। राज्य पुलिस ने गुरुवार को यह ट्वीट किया है। बताया कि लॉकडाउन के दौरान फर्जी खबरें फैलाने के आरोप में करीब 50 लोगों को अकेले कोलकाता पुलिस ने गिरफ्तार किया है। अन्य लोगों की गिरफ्तारी राज्य के विभिन्न थानों की पुलिस ने की है। राज्य पुलिस ने ट्वीट किया, “व्हाट्सएप और फेसबुक पर दुर्गापूजा के बारे में फर्जी खबर बनाने और फैलाने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। फर्जी समाचार और धार्मिक घृणा फैलाने के आरोप में पिछले पांच महीनों में कुल 259 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कृपया झूठी खबरें न फैलाएं।" दरअसल, सोशल साइट पर एक फर्जी निर्देशिका साझा की जा रही है, जिसमें यह दावा किया है कि पश्चिम बंगाल सरकार ने दुर्गापूजा पर कई प्रतिबंध जारी किए हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसका संज्ञान लिया था और 08 सितम्बर को पुलिस दिवस के मौके पर इसके लिए भारतीय जनता पार्टी को दोषी ठहराया था। इशारे इशारे में उन्होंने कहा था कि अगर कोई साबित कर देगा कि पश्चिम बंगाल सरकार ने दुर्गा पूजा पर किसी भी तरह का प्रतिबंध नहीं लगाया है। कोई साबित कर दे तो मैं सौ उठक बैठक करूंगी। उन्होंने राज्य पुलिस को भी फर्जी खबरें फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए थे। पिछले दो दिन में चार ऐसे लोगों को पकड़ा गया है, जिनमें से दो राज्य पुलिस और दो लोगों को कोलकाता पुलिस ने पकड़ा है। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश-hindusthansamachar.in