चंदननगर से कृष्णानगर तक जगद्धात्रि पूजा की धूम, कोरोना प्रोटोकॉल का हो रहा पालन
चंदननगर से कृष्णानगर तक जगद्धात्रि पूजा की धूम, कोरोना प्रोटोकॉल का हो रहा पालन
पश्चिम-बंगाल

चंदननगर से कृष्णानगर तक जगद्धात्रि पूजा की धूम, कोरोना प्रोटोकॉल का हो रहा पालन

news

कोलकाता, 22 नवम्बर (हि. स.)। दुर्गा पूजा, कालीपूजा के बाद अब जगद्धात्रि पूजा की धूम कोलकाता, हुगली जिले के चंदननगर से लेकर नदिया जिले के कृष्णानगर तक है। रविवार को अष्टमी है। देवी जगद्धात्रि त्रिनयना, चतुर्भुजा और सिंहवाहिनी स्वरूप में आज पूजी जाती हैं। उनके हाथ में शंख, चक्र, धनुष और बाण हैं। चंदननगर में, दुर्गा पूजा की तरह जगद्धात्रि पूजा होती है। कहीं-कहीं तीन दिवसीय पूजन के नौवें दिन संपन्न होती है। इस बार कोरोना के कारण भीड़-भाड़ कम है। चंदननगर के अलावा तेलिनिपाड़ा, भद्रेश्वर तक विशालकाय प्रतिमा स्थापित कर मां की पूजा होती है। इस बार चंदननगर में 161 पंडालों में पूजा हो रही है इस बार कोरोना में नौ पूजा समितियां घटपूजा कर रही है। इसके अलावा, पूजा समितियों ने नियमों के अनुसार प्रकाश और मंडप सजावट की लागत को कम करने का निर्णय लिया है। उल्लेखनीय है कि कलकत्ता उच्च न्यायालय ने आदेश दिया है कि दुर्गा पूजा की तरह जगद्धात्रि पूजा में भी किसी भी तरह की भीड़ नहीं होनी चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/गंगा-hindusthansamachar.in