एजेंसी के जरिये सरकारी विभागों में नियुक्त आइटी कर्मियों को ममता सरकार का तोहफा
एजेंसी के जरिये सरकारी विभागों में नियुक्त आइटी कर्मियों को ममता सरकार का तोहफा
पश्चिम-बंगाल

एजेंसी के जरिये सरकारी विभागों में नियुक्त आइटी कर्मियों को ममता सरकार का तोहफा

news

कोलकाता, 16 अक्टूबर (हि.स.)। राज्य के विभिन्न विभागों में ऐसे कई आइटी कर्मी काम करते हैं जिन्हें सरकार ने सीधे कॉन्ट्रैक्ट पर नहीं रखा है बल्कि वह वेबेल या एजेंसियों के जरिये नियुक्त हैं। इन्हें अब सरकार का कॉन्ट्रैक्चुअल स्टाफ बनाया जायेगा। राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसकी घोषणा की। इस संबंध में ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा कि बंगाल को उसके ई-गवर्नेंस के लिए जाना जाता है। मुझे अपने युवा आइटी कर्मियों के लिए पूजा के तोहफे की घोषणा करते हुए काफी खुशी हो रही है, जो हमारी इ-सर्विसेस के विकास तथा बंगाल के लोगों के लिए काम कर रहे हैं। राज्य सरकार में वेबेल/डब्ल्यूटीएल/ एजेंसी नियुक्त आइटी स्टाफ अब सीधे पश्चिम बंगाल सरकार के कॉन्ट्रैक्चुअल स्टाफ होंगे। उन्हें 30 दिनों की छुट्टी तथा 10 दिनों की मेडिकल लीव मिलेगी। महिलाओं को मातृत्व छुट्टी भी मिलेगी। वह 60 वर्ष तक की उम्र तक काम कर सकेंगे और 60 वर्ष पूरे होने पर उन्हें सेवानिवृत्ति के तौर पर तीन लाख रुपये भी मिलेंगे। इसके अलावा स्वास्थ्य साथी योजना के जरिये उनका चिकित्सकीय खर्च भी वहन हो सकेगा। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/सुगंधी-hindusthansamachar.in