मांगों को लेकर संघ कर्मचारियों ने परिसर निदेशक से की वार्ता

मांगों को लेकर संघ कर्मचारियों ने परिसर निदेशक से की वार्ता
union-employees-talked-to-the-campus-director-regarding-the-demands

हरिद्वार, 09 जून (हि.स.)। चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएं उत्तराखंड और संयुक्त संघर्ष समिति ऋषिकुल, गुरुकुल के साथ कर्मचारियों की मांगों के निराकरण के लिए परिसर निदेशक से लम्बी वार्ता हुई। इससे पूर्व चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों व सदस्यों द्वारा ऋषिकुल आयुर्वेद विश्वविद्यालय परिसर निदेशक के कार्यालय के बाहर बैठक कर मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय की कार्यप्रणाली पर आक्रोश जताया गया और मुख्य चिकित्सा अधिकारी के घेराव और आंदोलन के लिए रणनीति तैयार की गई। ऋषिकुल आयुर्वेदिक विश्विद्यालय के परिसर निदेशक डॉ. अनूप गक्खड़ से द्विपक्षीय वार्ता चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ और संयुक्त कर्मचारी संघर्ष समिति के पदाधिकारी से सौहाद्र पूर्वक वातावरण में हुई, किन्तु पदाधिकारियों द्वारा परिसर निदेशक के कार्यालय के कार्यप्रणाली से नाखुश नजर आये। निदेशक द्वारा आश्वाशन दिया गया कि कर्मचारियों की मांगों के निस्तारण के लिए वह कुलसचिव से वार्ता करेंगे। वार्ता के दौरान समस्त चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को एसीपी का लाभ तत्काल इसी माह दिये जाने, रामपाल का दो साल पुराना एरियर के भुगतान और सुमंत पाल के नियमितीकरण की कार्रवाई शीघ्र करे, शासनादेश अनुसार कर्मचारियों को आवासों के आवंटन, चिकित्सा प्रतिपूर्ति बिलों का भुगतान करने, कर्मचारियों के परिवारों का वेक्सीनेशन शीघ्र कराने, संविदा या नियमित नियुक्तियों में कर्मचारियों के आश्रितों हेतु 25 प्रतिशत का आरक्षित करने, महिला कर्मचारी बाला के मेडिकल के वेतन का भुगतान जल्द कराया जाने पर चर्चा हुई। प्रदेश अध्यक्ष दिनेश लखेड़ा और उपशाखा अध्यक्ष छत्रपाल सिंह व जयनारायण सिंह ने कहा कि कर्मचारियों द्वारा अग्रिम पंक्ति में रहकर कार्य करने के बाद भी अधिकारियों का इस तरह का अहसहयोगात्मक रवैया निराश करता है। इसके लिए सभी को एकजुट होकर इनके निरकुंश होने पर इनके खिलाफ आंदोलन का बिगुल बजाने की जरूरत है। जिलाध्यक्ष शिवनारायण सिंह और संयोजक केएन भट्ट जिला मंत्री राकेश भंवर ने कहा कि सब्र का प्याला छलक गया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी हरिद्वार द्वारा वार्ता करने के बाद भी कर्मचारियों के साथ छलावा करते हैं। वार्ता में शिवनारायण सिंह, केएन भट्ट, जयनारायण सिंह, छत्रपाल सिंह, दिनेश लखेड़ा, राकेश भंवर ज्योति नेगी, अजय कुमार, अमित, राकेश, मनोज पोखरियाल, विनोद कश्यप,चंद्रपाल, रामपाल, सतीश कुमार, नितिन कुमार, सुमंत पाल, नाथी राम, प्रवीण पुरोहित, प्रमोद कुमार, कुसुम आदि उपस्तिथि रहे। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत