the-joy-and-pleasure-of-the-arena-came-out-with-great-pomp
the-joy-and-pleasure-of-the-arena-came-out-with-great-pomp
उत्तराखंड

धूमधाम से निकली आनन्द और आवाह्न अखाड़े की पेशवाई

news

हरिद्वार, 05 मार्च (हि.स.)। श्री पंचायती अखाड़ा आनन्द व आवाह्न अखाड़े की पेशवाई शुक्रवार को धूमधाम से बैंडबाजों के साथ निकाली गयी। आनन्द अखाड़े की पेशवाई एसएमजेएन पीजी कालेज प्रागंण से सुबह 11 बजे और आवाह्न अखाड़े की पेशवाई अपराह्न साढ़े तीन बजे पांडेवाना से आरम्भ हुई। पेशवाई का शुभारम्भ देव पूजन के साथ हुआ। पेशवाई में हाथी, घोड़े, ऊंट आदि पर सवार होकर नागा साधु शान शौकत के साथ निकले। सबसे आगे हाथी, उसके पीछे धर्मध्वजा, देव डोली व नागा साधुओं का जत्था चला। अपने करतबों से नागा साुधओं ने सभी को आकर्षित किया। नागा संन्यासियों के पीछे आनन्द अखाड़े के आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी बालकानंद गिरि की पालकी निकाली गयी। उसके पीछे मण्डलेश्वरों व महंतों की पालकी रही। बैडबाजों के साथ निकली पेशवाई में झांकियां भी विशेष आकर्षण का केन्द्र रहीं। सड़कों पर पेशवाई को देखने व संतों का दर्शन करने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ा। लोगों ने जगह-जगह पुष्पवर्षा कर संतों का स्वागत किया। पेशवाई मार्ग पर मेला प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए। भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। पेशवाई के चलते यातायात डायवर्जन प्लान लागू किया गया। पेशवाई चन्द्राचार्य चौक, शंकर आश्रम, सिंहद्वार, कनखल थाना, चौक बाजार, शंकराचार्य चौक होते हुए श्री पंचायती अखाड़ा निरंजनी की छावनी में पहुंची। आवाह्न अखाड़े की पेशवाई पांडेवाला से आरम्भ होकर नीलखुदाना, जामा मस्जिद, चौक बाजार, आर्यनगर, चन्द्राचार्य चौक, देवपुरा, शिवमूर्ति, वाल्मीकि चौक होते हुए मायादेवी प्रांगण में पहुंचकर सम्पन्न हुई। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद