swami-rupendra-prakash-became-mahamandaleshwar-of-shri-panchayati-akhara-big-apathetic
swami-rupendra-prakash-became-mahamandaleshwar-of-shri-panchayati-akhara-big-apathetic
उत्तराखंड

श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के महामंडलेश्वर बने स्वामी रूपेंद्र प्रकाश

news

हरिद्वार, 06 अप्रैल (हि.स.)। प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम के महंत स्वामी रूपेंद्र प्रकाश महाराज को श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन का महामंडलेश्वर बनाया गया है। स्वामी रूपेंद्र श्री प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम से भव्य शोभायात्रा के साथ प्रकाश दक्ष मंदिर के समीप अखाड़े की छावनी पहुंचे जहां अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि और अन्य पदाधिकारियों व अन्य संतों का तिलक चादर कर स्वामी रूपेंद्र प्रकाश को महामंडलेश्वर बनाया। इस दौरान राज्यपाल बेबी रानी मौर्य भी मौजूद रहीं। इस मौके पर राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने कहा कि हरिद्वार में महाकुंभ पर आने वाले सभी श्रद्धालु कोविड की गाइड लाइन का पालन कड़ाई से करें। हमें हरिद्वार के महाकुंभ से विश्वभर को संदेश देना है कि हम कोरोना जैसी कठिन परिस्थितियों में भी हिंदुओं के महापर्व और आस्था के प्रतीक महाकुंभ को दिव्य, भव्य और सुरक्षित कैसे बना सकते हैं। इस मौके पर महामंडलेश्वर रूपेंद्र प्रकाश ने कहा कि वह खुद को भाग्यशाली समझते हैं कि उन्हें बड़ा उदासीन अखाड़ा में महामंडलेश्वर के रूप में सेवा करने का अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि उन्हें जो भी जिम्मेदारी दी जाएगी वह उसका पूरी ईमानदारी और लगन से निर्वहन करेंगे। अखाड़े के कुंभ मेला प्रभारी महंत दुर्गादास ने कहा कि अखाड़ों में कुंभ मेले के दौरान महामंडलेश्वर बनाने की परंपरा है। केवल विद्वान और योग्य लोगों को ही महामंडलेश्वर बनाया जाता है। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद