starting-with-ekkad-art-nirmala-cantonment-will-reach-nirmala-akhara
starting-with-ekkad-art-nirmala-cantonment-will-reach-nirmala-akhara
उत्तराखंड

एक्कड़ कला से शुरू होकर निर्मला छावनी पहुंचेंगी निर्मल अखाड़े की पेशवाई

news

हरिद्वार, 08 अप्रैल (हि.स.)। श्री पंचायती अखाड़ा निर्मल की पेशवाई शुक्रवार को अखाड़े की एक्कड़ कला शाखा से निकाली जाएगी। कोठारी महंत जसविंदर सिंह महाराज ने बताया कि एक्कड कला से पंच प्यारों के सानिध्य में तथा निर्मल अखाड़े के अध्यक्ष श्रीमहंत ज्ञानदेव सिंह शास्त्री महाराज की अध्यक्षता में पेशवाई जटवाड़ा पुल पहुंचेगी। इसके बाद पैदल यात्रा के रूप में पेशवाई आर्य नगर चौक, सिंह द्वार, शंकराचार्य चैक, तुलसी चैक होते हुए निर्मल अखाड़े की छावनी में बैंड बाजों के साथ प्रवेश करेगी। पेशवाई के दौरान हाथी, घोड़े, ऊंट और धार्मिक कलाकृतियां आकर्षण का मुख्य केंद्र बिंदु होंगे। उन्होंने बताया कि कुंभ मेला संतों की तपस्या और भारतीय संस्कृति के रंगों को पूरे विश्व में बिखरेता है। निर्मल संप्रदाय के संत सभी गुरुओं के आदर्शों को अपनाकर समाज कल्याण में अपनी सहभागिता निभाते चले आ रहे हैं और महापुरुषों ने हमेशा ही समाज को नई दिशा प्रदान की है। उन्होंने सभी शहर वासियों से अपील करते हुए कहा कि पेशवाई के दौरान संतो के दिव्य दर्शनों का लाभ उठाएं और देश-विदेश से आने वाले तपस्वी संतों का आशीर्वाद अवश्य प्राप्त करें। महंत रंजय सिंह ने बताया कि पेशवाई में शामिल संत महापुरूषों का कई स्थानों पर पुष्पवर्षा कर स्वागत किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/सुनीत