संपत्ति के लिए पिता की हत्या के मामले में बेटे को आजीवन कारावास

संपत्ति के लिए पिता की हत्या के मामले में बेटे को आजीवन कारावास
son-imprisoned-for-life-in-connection-with-murder-of-father-for-property

हरिद्वार, 24 मार्च (हि.स.)। संपत्ति विवाद में पिता की गोली मारकर हत्या करने के मामले में आज तृतीय अपर जिला न्यायाधीश भारत भूषण पांडेय ने हत्यारोपित को दोषी पाते हुए उसे आजीवन कारावास व बीस हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई है। शासकीय अधिवक्ता कुशलपाल सिंह चौहान ने बताया कि 27 मई 2018 को शिकायतकर्ता वैशाली ने रानीपुर पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि वह अपने छोटे भाई अमित व उसकी पत्नी के साथ ऊपर वाले कमरे में बैठे हुए थे। उसी दौरान गोली चलने की आवाज सुनाई दी थी तो हमने देखा कि बड़ा भाई आरोपित विशाल अपने पिता को गोली मार रहा है। मां ने बड़े भाई आरोपित विशाल से रिवाल्वर छीनने की कोशिश की लेकिन वह मौके से फरार हो गया। रानीपुर पुलिस ने हत्यारोपित विशाल पुत्र जयपाल सिंह निवासी टिबड़ी कोतवाली रानीपुर हरिद्वार के खिलाफ चार्जशीट कोर्ट में दाखिल की थी। पीड़ित पक्ष की ओर से ग्यारह गवाह प्रस्तुत किए गए जबकि बचाव पक्ष की ओर से तीन गवाह पेश किए गए। दोनों पक्षों के वकीलों की दलीलें सुनने व पेश सबूतों के आधार पर हत्यारोपित विशाल को हत्या करने का दोषी ठहराया है। कोर्ट ने उसे आजीवन कारावास और बीस हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई। हिन्दुस्थान समाचार / रजनीकांत

अन्य खबरें

No stories found.