देवस्थानम बोर्ड को खत्म करने की मांग को लेकर केदारनाथ में तीर्थ पुरोहितों का मौन प्रदर्शन

देवस्थानम बोर्ड को खत्म करने की मांग को लेकर केदारनाथ में तीर्थ पुरोहितों का मौन प्रदर्शन
silent-demonstration-of-pilgrim-priests-in-kedarnath-demanding-the-abolition-of-devasthanam-board

गुप्तकाशी, 11 जून (हि.स.)। देवस्थानम बोर्ड को निरस्त करने की मांग को लेकर द्वादश ज्योतिर्लिंगों में शुमार बाबा केदारनाथ में तीर्थ पुरोहितों का दूसरे दिन भी मौन विरोध जारी रहा। शुक्रवार को विरोध प्रदर्शन से पूर्व पंच पंडा रुद्रपुर श्री केदारनाथ के अध्यक्ष अमित शुक्ला ने कहा कि उत्तराखंड की भाजपा नीत सरकार हिंदू विरोधी है। बिना हक हकूकधारियों को विश्वास में लिए बोर्ड का गठन किया जाना चार धामों के लिए विनाशकारी कदम है। उन्होंने कहा कि केदारनाथ धाम में आपदा के बाद से लेकर अभी तक कुंड समेत कई अन्य धार्मिक मंदिरों का निर्माण नहीं किया गया है, जबकि सरकार का ध्यान महज देवस्थानम बोर्ड के विस्तारीकरण में लगा है। उन्होंने कहा कि जब तक राज्य सरकार इस बोर्ड को समाप्त नहीं करती है, तब तक केदारनाथ धाम में मौन विरोध जारी रहेगा। इस मौके पर तेज प्रकाश त्रिवेदी, पंकज शुक्ला, नवीन, संदीप, मुरारी, चंद्रकांत, दिलमणि पशुपतिनाथ समेत कई अन्य लोग भी मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार/ बिपिन