ग्रामीण बाजारी क्षेत्रों में कोरोना नियंत्रण उपायों के लिए अलग से धनराशि जारी

ग्रामीण बाजारी क्षेत्रों में कोरोना नियंत्रण उपायों के लिए अलग से धनराशि जारी
separate-funds-released-for-corona-control-measures-in-rural-market-areas

श्रीनगर, 13 मई (हि.स.)। श्रीनगर विधानसभा के ग्रामीण बाजारी क्षेत्रों में कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए अलग से धनराशि जारी की गई है। विधायक निधि से जारी इस धनराशि के लिए विकासखंड को कार्यदायी संस्था बनाया गया है। श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र के बाजारी क्षेत्रों में अब विकासखंड प्रशासन कोरोना महामारी नियंत्रण के उपायों पर धनराशि खर्च कर सकेगाा। इसके लिए स्थानीय विधायक व प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डा धन सिंह रावत ने विधायक निधि से धनराशि दी है। डॉ धन सिंह रावत ने बताया कि विकासखंड पाबों, थलीसैंण एवं खिर्सु के अंतर्गत आने वाले बाजारी क्षेत्रों के लिए वित्तीय वर्ष 2019-20 की विधायक निधि से विकास खंडों को ही कार्यदाई संस्था रखते हुए धनराशि स्वीकृत की गई है। जिसमें विकासखंड पाबों के अंतर्गत आने वाले चौपडीयू , पाबों, चिपलघाट, सांकरसैन, चपलोडी, सैजी, नोठा, विडोली एवं वेलाबाजार को एक लाख रुपये की धनराशि स्वीकृति की गई है। जिसमें कार्यदाई संस्था विकासखंड पाबो को ही रखा गया है। विकासखंड थलीसैंण के अंतर्गत आने वाले बाजार क्षेत्र पैठाणी, पल्लीसैण, बड़ेथ, चाकीसैंण, चौरा, मजरामहादेव, तरपालीसैण , सलोन, कपरोली , कैन्यूर, व्यासी, थलीसैंण, भीडा, जसपुरखाल, चौखाल,मेलधार , भगवतीतलैया, उफरैंखाल, भरनो, जगतपुरी, मासों, बूंगीधार, गणतखाल, बीरूधूनी एवं नकचुलाखाल के लिए 2 लाख रुपये की धनराशि स्वीकृत की गई है। जिसमें कार्यदायी संस्था विकासखंड थलीसैंण को रखा गया है। विकास खंड खिरसू क्षेत्र के अंतर्गत चौबट्टा,खिरसू, नवाखाल, धारी देवी , देवलगढ़ , खंडाह , खंडाह श्रीकोट , चौरीखाल एवं मोलखाखाल के लिए1 लाख रुपए की धनराशि स्वीकृत की गई है। जिसमें कार्यदाई संस्था विकासखण्ड खिर्सू को रखा गया है । हिन्दुस्थान समाचार/राजीव

अन्य खबरें

No stories found.