ऋषिकेशः बैराज में पानी पीने उतरे एक सांभर की जाल में फंसने से मौत, दूसरा गंगा में बहा
ऋषिकेशः बैराज में पानी पीने उतरे एक सांभर की जाल में फंसने से मौत, दूसरा गंगा में बहा
उत्तराखंड

ऋषिकेशः बैराज में पानी पीने उतरे एक सांभर की जाल में फंसने से मौत, दूसरा गंगा में बहा

news

ऋषिकेश, 20 जुलाई ( हि.स .)। वीरभद्र बैराज के जलाशय में बीती रात पानी पीने उतरे दो सांभरों के जाल में फंस जाने के परिणामस्वरूप एक की मौत हो गई ,जबकि दूसरा भारी होने के कारण वन कर्मचारियों के बचाने के प्रयास के बावजूद गंगा में बह गया। दरअसल, नेशनल पार्क टाइगर रिजर्व के जंगल से निकल कर गंगा में पानी पीने के लिए उतरने वाले कई वन्यजीव अक्सर ही गंगा के तेज बहाव में बह जाते हैं लेकिन वीरभद्र बैराज के जाल में फंस जाने के बाद वन महकमे द्वारा उक्त वन्यजीवों को मशक्कत कर बचाने का भरसक प्रयास किया जाता है। इसी तरह रविवार की देर रात लगभग दस बजे वीरभद्र बैराज में कार्यरत कर्मचारियों को वीरभद्र बैराज के डाउन स्ट्रीम जाल पर दो सांभर फंसे दिखे, जो जान बचाने के लिए लगातार कई फिट गहरे बैराज जलाशय में अपने पैर चलाते दिखे। बैराज कर्मियों ने इसकी सूचना राजा जी टाइगर रिजर्व पार्क के वनक्षेत्राधिकारी व कर्मियों को दी, जिन्होंने मौके पर पहुंच कर दोनो सांभरों को निकालने के लिए रेस्क्यू अभियान चलाया लेकिन सांभर काफी बड़े थे। नतीजतन काफी मशक्कत के बावजूद वन कर्मी दोनो सांभरों को जलाशय से बाहर नहीं निकाल पाए। उसके बाद जल विद्युत निगम के गेट नम्बर 1 को खोलने का निर्णय लिया गया। हालांकि सूत्रों का कहना है कि जल विद्युत निगम के अधिशासी अभियंता राजकुमार के देरी से घटना स्थल पर पहुंचने व गेट खोलने की धीमी प्रक्रिया के कारण एक सांभर की जाल में फंसे होने से मौत हो गई जबकि दूसरा सांभर गंगा के तेज बहाव में बह गया। हिन्दुस्थान समाचार /विक्रम-hindusthansamachar.in