स्वामी रामेश्वरानन्द को सौंपी रामभजन आश्रम की जिम्मेदारी

स्वामी रामेश्वरानन्द को सौंपी रामभजन आश्रम की जिम्मेदारी
rambhajan-ashram-entrusted-to-swami-rameshwaranand

हरिद्वार, 07 मई (हि.स.)। पंचायती अखाड़ा श्रीमहानिर्वाणी के महामंडलेश्वर स्वामी रामेश्वरानंद सरस्वती महाराज का पट्टाभिषेक कर उन्हें रामभजन रामेश्वर आश्रम की विधिवत रूप से जिम्मेदारी दी गई। आश्रम में पंचायती अखाड़ा श्री महानिर्वाणी के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी विशोकानंद भारती महाराज, सचिव श्रीमहंत रविंद्रपुरी महाराज के सानिध्य में पूजा -अर्चना व तिलक चादर प्रदान कर म.म.स्वामी रामेश्वरानन्द सरस्वती का पट्टाभिषेक किया गया। इस अवसर पर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी विशोकानंद भारती महाराज ने कहा कि संतों का जीवन सदैव भक्तों के कल्याण एवं मानव सेवा को समर्पित रहता है। निर्मल जल के समान जीवन व्यतीत करने तथा सदैव मानव सेवा के लिए समर्पित रहने वाले संतों के उपदेश सदैव प्रेरणादायी होते। संतों के जीवन से प्रेरणा लेकर सभी को समाज कल्याण में अपना योगदान करना चाहिए। उन्होंने बताया कि सर्वसम्मति से महामंडलेश्वर रामेश्वरानंद सरस्वती महाराज को तिलक चादर प्रदान कर राम भजन आश्रम की गद्दी पर गाददीपति की जिम्मेदारी दी गई। आश्रम की गद्दी पर आसीन रहकर सभी कार्यभार एवं संचालन रामेश्वरानंद महाराज एवं रामेश्वर आश्रम सेवा चेरिटेबल ट्रस्ट कनखल करेगा। कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने भी पहुंचकर संतों से आशीर्वाद लिया और बधाई दी। मदन कौशिक ने कहा कि संत महापुरुषों ने सदैव समाज का मार्गदर्शन कर मानव कल्याण के लिए प्रेरित करने का काम किया है। इस अवसर पर महामंडलेश्वर स्वामी प्रेमानंद गिरी महाराज, स्वामी कृष्णानंद गिरी महाराज, सतपाल ब्रह्मचारी महाराज, ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी महाराज, महंत रविदेव शास्त्री, महंत दिनेश दास, रामभजन आश्रम के ट्रस्टी संचालक श्याम शर्मा, प्रवीण चड्ढा, अनिल पुरी, नरेश शर्मा, पंडित देवी दत्त शास्त्री, गिरीश मोहन, ओम प्रकाश वर्मा, आशीष वर्मा, रमेश वर्मा, भवानी शंकर मंदोलिया आदि उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत