राजाजी टाइगर रिजर्व में पसरा सन्नाटा
राजाजी टाइगर रिजर्व में पसरा सन्नाटा
उत्तराखंड

राजाजी टाइगर रिजर्व में पसरा सन्नाटा

news

हरिद्वार, 14 जून (हि.स.)। कोरोना महामारी के प्रभाव की वजह से पूरा देश आर्थिक संकट से गुजर रहा है। ऐसे में राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क भी लाखों के नुकसान का दंश झेल रहा है। स्थिति कब सामान्य होगी इस बात का अंदाजा लगाना भी अभी मुश्किल है। इस दौरान सरकार ने 14 जून से पार्क को खोलने की बात कही है, लेकिन 15 जून से मानसून की दस्तक होने से पार्क को बंद कर दिया जाएगा। लिहाजा इस साल राजाजी को आर्थिक संकट से गुजरना पड़ेगा। दरअसल राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क चीला और मोतीचूर रेंज में इन दिनों सन्नाटा पसरा हुआ है। कारण यह है कि कोविड-19 महामारी के चलते पर्यटकों की आवाजाही पर ब्रेक लगा हुआ है। 24 मार्च से जारी लॉक डाउन से इस पार्क में व्यवसायिक गतिविधियां ठप पड़ चुकी हैं। जिससे पार्क प्रशासन को लाखों का नुकसान झेलना पड़ रहा है। यही नहीं पार्क से जुड़े व्यवसायियों की आजीविका भी खतरे में पड़ चुकी है। वहीं सैलानियों को जंगल का लुत्फ उठाने वाली जंगल सफारी पर भी कोरोना का ब्रेक लगा हुआ है। राजाजी टाइगर रिजर्व के डिप्टी डायरेक्टर दीपक सिंह ने बताया कि कोरोना के चलते किए गए लॉक डाउन से पार्क प्रशासन को हर महीने लगभग 14 से 15 लाख रुपये तक का नुकसान हो रहा है। उन्होंने बताया कि इस नुकसान से उबरने के लिए पार्क को अभी काफी समय लगेगा। 14 जून से पार्क को खोले जाने की बात कही जा रही है, लेकिन अभी उनके पास कोई सरकारी आदेश नहीं आया है। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद-hindusthansamachar.in