protest-expressed-against-the-appointment-of-rural-postal-servicemen-at-the-national-level
protest-expressed-against-the-appointment-of-rural-postal-servicemen-at-the-national-level
उत्तराखंड

राष्ट्रीय स्तर पर ग्रामीण डाकसेवकों की नियुक्ति पर जताया विरोध

news

अखिल भारतीय डाक सेवक संघ का 10वां द्विवार्षिक अधिवेशन शुरू पौड़ी, 02 अप्रैल (हि.स.)। ग्रामीण डाक सेवक संघ ने आज डाकसेवक पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया को राष्ट्रीय स्तर पर कराने का विरोध किया है। ग्रामीण डाक सेवकों का कहना है कि इन पदों पर ग्राम पंचायत स्तर या जिला स्तर पर नियुक्तियां दी जानी चाहिए। डाक कर्मचारियों ने केंद्रीय यूनियन, मंडलीय व परिमंडलीय यूनियनों द्वारा कर्मचारी हित में हो रहे प्रयासों की सराहना की। शुक्रवार को संस्कृति भवन प्रेक्षागृह में अखिल भारतीय डाक सेवक संघ का 10वां द्विवार्षिक अधिवेशन हुआ। अधिवेशन का शुभारंभ मुख्य अतिथि संघ के मंडलीय सचिव जगदीश रावत ने किया। इस मौके पर मंडलीय सचिव रावत ने कहा कि विभाग कर्मचारियों पर लक्ष्य पूर्ति के लिए अनावश्यक दबाव बना रहा है। साथ ही लक्ष्य पूर्ति नहीं होने पर वेतन में कटौती भी की जा रही है। ऐसा करना कर्मचारियों के हितों से खिलवाड़ है। उन्होंने कहा कि डाक सेवक अल्प वेतनभोगी हैं। सेवाकाल के दौरान उसकी मौत पर आश्रित को जीडीएस पद पर नियुक्ति का प्रावधान होने के बावजूद कई मामलों में नियुक्ति नहीं की जा रही है। संघ ने कमलेश चंद्र कमेटी की सिफारियों को लागू करने, डाक सेवक को सरकारी कर्मचारी घोषित करने की भी मांग की। उन्होंने कहा कि डाक सेवक के पदों पर राष्ट्रीय स्तर पर नियुक्तियां करने का संघ पुरजोर विरोध करता है। अधिवेशन में संघ के पौड़ी प्रखंड की नई कार्यकारिणी का गठन भी किया गया। जिसमें जीवन प्रकाश चमोली अध्यक्ष, वीरेंद्र सिंह कार्यकारी अध्यक्ष, रघुनंदन गोदियाल व प्रेम सिंह उपाध्यक्ष और विजय राणा सचिव चुने गए। हर्षपाल सिंह, विनोद रावत,, नीरज रावत, दिनेश कुकरेती सह-सचिव, नंद किशोर डोभाल कोषाध्यक्ष, शिवानी कार्य सह-कोषाध्यक्ष मनोनीत की गई। बलवंत सिंह, विजय नैथानी, देवेंद्र चंदोला व आशीष पोखरियाल को संगठन सचिव और दुर्गेश जुगराण को ऑडिटर की जिम्मेदारी दी गई। निर्वाचन पर्यवेक्षक विजय कुमार की देखरेख में संपन्न हुए। हिन्दुस्थान समाचार / राजीव