नंदा लोकजात कार्यक्रम की घोषणा, शासन की मंजूरी का इंतजार

नंदा लोकजात कार्यक्रम की  घोषणा,  शासन की मंजूरी का इंतजार
नंदा लोकजात कार्यक्रम की घोषणा, शासन की मंजूरी का इंतजार

गोपेश्वर, 25 जुलाई (हि.स.)। पहाड़ की अराध्या देवी नंदादेवी की वार्षिक लोकजात कार्यक्रम तय किया गया है। शनिवार को नंदाधाम कुरूड़ में मेला कमेटी की बैठक में इसे अंतिम रूप दिया गया। इसकी जानकारी पत्र भेजकर शासन को देते हुए अनुमति मांगी गई है। प्रति वर्ष नंदा सप्तमी के पर्व पर नंदा देवी की लोकजात का आयोजन किया जाता है। मेला कमेटी के अध्यक्ष भागवत सिंह ने बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में यह फैसला किया गया है कि अगस्त में नंदा सप्तमी के अवसर पर आयोजित होने वाली लोकजात को सप्तकुंड में सूक्ष्म रूप में मनाया जाएगा। कमेटी ने यात्रा मार्ग पर कहा है कि अगर शासन की अनुमति मिली तो 14 अगस्त को नंदा की डोली सिद्धपीठ नंदाधाम कुरूड से प्रस्थान कर प्रथम पड़ाव फरखेत गांव पहुंचेगी। 15 को नारंगी, 16 को कुमजुग, 17 को लुन्तरा, 18 को खुनाना, 19 को चोपडकोट, 20 को काण्डई, 21 को पगना 22 को ल्वाणी, 23 अगस्त को सुंग, 24 को रामणी तथा 25 अगस्त को सप्तमी के अवसर पर बालपाटा पहुंचेगी। यहां जात संपन्न होने के बाद वापसी रामणी होते हुए 26 को सुंग कुंडबगड होते हुए सिद्ध पीठ कुरुड़ मंदिर में स्थापित होगी। इस अवसर पर मन्दिर कमेटी के संरक्षक सुखबीर रौतेला, ब्लॉक प्रमुख घाट भारती देवी, जिला पंचायत बूरा वार्ड नंदिता देवी, आयोजन समिति के महामंत्री महिपाल सिंह, क्षेत्र पंचायत दीपक रतूड़ी, प्रधान ल्वाणी गजेंद्र सिंह, प्रधान सुंग भागवत सिंह, अनिल सिंह, राकेश गौड़, पुजारी दिनेश गौड़, अरविंद गौड़ आदि मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/जगदीश/मुकुंंद-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.