स्वास्थ्य केंद्र बंद होने पर विधायक नेगी ने डीएम से की शिकायत, कार्रवाई की मांग

स्वास्थ्य केंद्र बंद होने पर विधायक नेगी ने डीएम से की शिकायत, कार्रवाई की मांग
mla-negi-complains-to-dm-on-health-center-closure-demands-action

स्वास्थ्य विभाग के आलाधिकारियों की मनमानी से अस्पताल हुआ बंद विधायक ने जांच के बाद दोषियों के खिलाफ कार्यवाही को बताया जरूरी नई टिहरी, 29 अप्रैल (हि.स.)। पेटव जाखणीधार बंद पड़े अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को लेकर क्षेत्रीय विधायक डाॅ. धन सिंह नेगी ने कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुये जांच के निर्देश डीएम को दिये। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई न होने पर शासन में मामले को उठाने की बात कही। कोरोना के गंभीर काल में अस्पतालों के लेकर किस तरह स्वास्थ्य विभाग की मनमानी चल रही है। स्वास्थ्य विभाग के आलाधिकारी अस्पतालों की सुध नहीं ले रहे हैं। अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र इसलिए बंद हो गया, क्योंकि यहां पर तैनात एक मात्र फार्मासिस्ट की ड्यूटी वैक्सीनेशन के लिए अंजनीसैंण में लगा दी गई और बीते अप्रैल में यहां के लिए तैनात डाॅ. कुमुद पैन्यूली को जिला अस्पताल बौराड़ी भेज दिया गया। स्थानीय लोगों ने इसकी शिकायत क्षेत्रीय विधायक डाॅ. धन सिंह नेगी से की। जिस पर उन्होंने डीएम इवा श्रीवास्तव को पत्र लिखकर अस्पताल के बंद होने के दोषियों के खिलाफ कार्यवाही के निर्देश दिए। उन्होंने डाॅ. कुमुद पैन्युली को तत्काल अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पेटव जाखणीधार भेजने के भी निर्देश दिये हैं। विधायक ने पत्र में लिखा है कि यह प्रकरण गंभीर है। जिस पर गहन जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही हो, साथ ही कहा कि अंजनीसैंण कन्टेनेमेंट जोन में आ सकता है। ऐसे में यहां पर हो रही वैक्सीनेशन की पेटव व खंडोगी में किया जाय। हिन्दुस्थान समाचार/प्रदीप डबराल/