mla-bhadana-who-reached-haridwar-accused-the-government-of-negligence-in-disaster-relief-work
mla-bhadana-who-reached-haridwar-accused-the-government-of-negligence-in-disaster-relief-work
उत्तराखंड

हरिद्वार पहुंचे विधायक भड़ाना ने सरकार पर आपदा राहत कार्य में लापरवाही का लगाया आरोप

news

हरिद्वार, 18 फरवरी (हि.स.)। तपोवन-रैंणी आपदा की जानकारी लेने के बाद हरिद्वार पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के मीरापुर से विधायक अवतार सिंह भड़ाना ने आपदा राहत कार्य में सराकर को विफल बताया है। यहां शकराचार्य मठ में गुरुवार को पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने सरकार पर आपदा राहत कार्य में लापरवाही का आरोप लगाया है। बता दें कि तपोवन-रैंणी आपदा में बड़ी संख्या में लोग लापता हैं। ऐसे लापता लोगों की जानकारी लेने के लिये मीरापुर विधायक और हरियाणा के पूर्व गृहमंत्री अवतार सिंह भड़ाना आपदा क्षेत्र का भ्रमण करने के बाद हरिद्वार पहुंचे। आपदा क्षेत्र में भ्रमण करने और आपदा पीड़ितों से मुलाकात के बाद उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार पर राहत कार्य में विफल होने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि आपदा की जानकारी मिलने के बाद आपदा क्षेत्र में देश की विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों की तैनाती की जानकारी मिलने पर राहत और बचाव कार्य को लेकर आस बंधी थी लेकिन जब आपदा क्षेत्र में पहुंच कर जमीनी हकीकत देखी तो स्थिति सामान्य नहीं थी। जहां पांच दिनों तक आपदा क्षेत्र में टनल के अलावा अन्य स्थानों पर सर्च ऑपरेशन शुरू नहीं किया गया था, जो राहत कार्य को लेकर सरकार और प्रशासन की लापरवाही को प्रदर्शित करता है। साथ ही उन्होंने कहा कि आपदा के 12 दिन गुजर जाने के बाद अब पीड़ित परिजन अपने लापता लोगों के शवों की तलाश में भटकने को मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि सरकार को आपदा राहत कार्यों में विदेशों से मदद लेनी चाहिए थी, किन्तु सरकार ने ऐसा नहीं किया। उन्होंने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार के साथ परियोजनाओं के स्वामी मृतक आश्रितों को 50-50 लाख का मुआवजा दें, जिससे वे अपना जीवन यापन ठीक प्रकार से कर पाएं। उन्होंने कहा कि आपदा के 12 दिनों बाद भी लोगों के शवों को ढूंढने में सरकार असफल रही है। जिससे उनके परिजनों में खासा रोष है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार पीड़ितों की मदद नहीं करती है तो शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती महाराज उनके जीवन यापन के लिए उचित कदम उठाएंगे। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत-hindusthansamachar.in