अब अल्‍केश्‍वर घाट पर नहीं होगा कोविड संक्रमित शवों का अंतिम संस्‍कार

अब अल्‍केश्‍वर घाट पर नहीं होगा कोविड संक्रमित शवों का अंतिम संस्‍कार
last-rites-of-kovid-infected-dead-will-no-longer-be-held-at-alkeshwar-ghat

- सामाजिक कार्यकर्ता व छात्र नेता आयुष मिंया ने जताई थी आपत्ति -एसडीएम ने जारी किए थे आदेश श्रीनगर, 13 मई (हि.स.)। अब कोविड संक्रमित शवों का अंतिम संस्कार अल्केश्वर घाट पर नहीं होगा। अल्केश्वर घाट के समीप घनी आबादी होने के कारण स्थानीय निवासियों ने कड़ी आपत्ति जताई थी। एसडीएम ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। कोरोना संक्रमण से मृतक व्यक्तियों के शवों के अंतिम संस्कार के लिए श्रीनगर व श्रीकोट में तीन घाट चयनित किए गए थे जिनमें श्रीकोट का हुडको स्थित घाट, श्रीनगर अल्केश्वर घाट व एनआईटी भक्तियाना घाट शामिल थे। अल्केश्वर घाट पर कोरोना संक्रमित शवों के अंतिम संस्कार पर स्थानीय निवासियों ने कड़ी आपत्ति जताई थी। इस संबंध में छाञ नेता आयुष मियां ने एसडीएम को ज्ञापन भी भेजा था। आयुष मियां का कहना था कि अल्केश्वर घाट घनी आबादी के समीप है। यहां कई बार करोनो मरीजों के शवों के अंगों को कुत्ते व सुअर बस्ती के बीच ला रहे हैं। जिससे बस्ती के लोगो को संक्रमण का भय बना हुआ है। स्थानीय निवासियों ने भी यहां कोरोना संक्रमित शवों का अंतिम संस्कार न कराए जाने की मांग की थी। एसडीएम रविंद्र बिष्ट ने बताया कि जनहित को देखते हुए अल्केश्वर घाट को कोरोना संक्रमित शवों के अंतिम संस्कार से मुक्त कर दिया गया है। कोरोना संक्रमित शवों का दाह संस्कार एनआईटी घाट भक्तियाना व श्रीकोट हुडको के नीचे स्थित घाट पर ही किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/राज

अन्य खबरें

No stories found.