kumbh-sandesh-yatra-reached-haridwar
kumbh-sandesh-yatra-reached-haridwar
उत्तराखंड

कुंभ संदेश यात्रा हरिद्वार पहुंची

news

हरिद्वार, 03 अप्रैल (हि.स.)। कन्या कुमारी से कुम्भ तीर्थ स्थानों का भ्रमण करते हुए कुंभ संदेश यात्रा हरिद्वार पहुंच गई। कुम्भ संदेश यात्रा के सिलसिले में शनिवार को मिशन इक्यावन-इक्यावन के कार्यकारी अध्यक्ष एम श्रीनिवास रेड्डी पत्रकारों से रूबरू हुए। उन्होंने कहा कि ग्रामोदय संस्था के तत्वावधान में कुम्भ संदेश यात्रा का आयोजन भारत की प्राचीन संस्कृति, मान्यताओं और व्यवस्थाओं के पुनर्जागरण का अभियान हैं। उन्होंने कहा कि कुंभ संदेश यात्रा के दौरान कन्याकुमारी से दिल्ली तक सात हजार किलोमीटर का सफर तय किया गया। वहां से हरिद्वार पदयात्रा करके पहुंचे । उन्होने कहा कि हमे आजाद हुए 72 साल से ज्यादा हो चुके हैं लेकिन हम आज भी अग्रेजी कलेंडर के अनुसार चल रहे हैं जबकि हमारा भारतीय पंचांग हजारों वर्ष प्राचीन है। कुम्भ संदेश यात्रा इसी प्रकार की सामाजिक, शैक्षिक विसंगतियों के विरुद्ध जनजागरण का प्रयास है। ए मधुसूदन और डी वसंत ने कहा कि भारत की ग्रामीण अर्थव्यवस्था आत्मनिर्भर भारत की सशक्त तस्वीर पेश करती थी जिसका दो सौ वर्षों की गुलामी में पतन हो गया । हम उसी आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को साकार करना चाहते हैं। कुम्भ संदेश यात्रा के प्रवक्ता आचार्य अविनाश राय ने कहा कि हम भारत की स्वतंत्रता की स्वर्ण जयंती तक आत्मनिर्भर, आधुनिक और भारतीय संस्कृति से ओतप्रोत समृद्ध भारत की परिकल्पना करते हैं। उसी को सकार करने का प्रयास कुम्भ संदेश यात्रा है। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद