विकट काल में 7 हजार की मदद हर परिवार को हर माह मिले

विकट काल में 7 हजार की मदद हर परिवार को हर माह मिले
in-the-critical-period-every-family-gets-7-thousand-help-every-month

-किशोर बोले केंद्र व राज्य सरकार अवाम को बचाने का काम करे नई टिहरी, 29 अप्रैल (हि.स.)। वनाधिकार आंदोलन के प्रणेता कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने कहा कि सरकार ने चारधाम यात्रा स्थगित कर दी है। ठीक ही है, लेकिन क्या इतने से सरकार के कामों की इतिश्री हो जाती है। उनका क्या होगा, जो सीजन आने का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। उपाध्याय ने कहा कि जीवन रहेगा तो धर्म-कर्म तो होता रहेगा। लेकिन यात्रा से अपना जीवन यापन करने वाले बस, टैक्सी, मैक्सी, ढाबे, होटल, घोड़े, पालकी, यात्रा रूट के दुकानदार , प्रसाद बेचने वाले, पुरोहित, धर्मशालाओं आदि से जुड़े लोगों का क्या होगा। हमारी प्रवृति व कर्मों के कारण जब हमारे आराध्य हमारा मुँह नहीं देखना चाहते हैं। ऐसे में मेरा अब भी केंद्र व राज्य सरकार को सुझाव है कि हर परिवार को 7 हजार रुपये प्रतिकाम प्रतिमाह की मदद के साथ बिजली-पानी के बिल माफ करे । स्कूल फीस माफ करे। टैक्स और ऋण उगाही स्थगित करे। मनरेगा की मजदूरी व कार्य दिवस बढ़ाये। यही इस वक्त अवाम के जिंदा रहने के सूत्र व सिद्धांत हैं। हिन्दुस्थान समाचार/प्रदीप डबराल